Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

देश

Mission 2024: पीएम मोदी को नहीं है कोई टेंशन, BJP के इन हथियारों से तबाह हो जाएगा विपक्ष

बीजेपी की ओर से इस बार भी पीएम मोदी की कप्तानी में ही मैदान में उतरा जाएगा. तो वहीं विपक्ष अपने कप्तान को तय नहीं कर पा रहा है. कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी को प्रोजेक्ट किया जा रहा है. राहुल इस समय भारत जोड़ो यात्रा पर निकले हैं. जबकि क्षेत्रीय पार्टियों की ओर से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मोदी को सत्ता से हटाने की कवायद शुरू की है.

BJP Meeting
पीएम मोदी को नहीं है कोई टेंशन (File Photo: ANI)

2024 में होने वाले लोकसभा चुनावों में भले वक्त हो, लेकिन सभी दलों की ओर से तैयारियां अभी से शुरू हो चुकी हैं. बीजेपी की ओर से इस बार भी पीएम मोदी की कप्तानी में ही मैदान में उतरा जाएगा. तो वहीं विपक्ष अपने कप्तान को तय नहीं कर पा रहा है. कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी को प्रोजेक्ट किया जा रहा है. राहुल इस समय भारत जोड़ो यात्रा पर निकले हैं. जबकि क्षेत्रीय पार्टियों की ओर से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मोदी को सत्ता से हटाने की कवायद शुरू की है. नीतीश कुमार इन दिनों विपक्ष को जोड़ने लगे हैं.

मोदी के पास हैं कई अचूक अस्त्र

विपक्ष जहां अभी से पूरी ताकत झोंकने में लगा है, तो वहीं बीजेपी शांत नजर आ रही है. बीजेपी की शांति के पीछे बड़ा कारण ये है कि उसके पास कई ऐसे अचूक अस्त्र हैं, जो विपक्ष को तहस-नहस कर सकते हैं.

  1. नया संसद भवन- नए संसद भवन का काम भी तेजी के साथ जारी है. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने उम्मीद जताई है कि 2024 से पहले ही नए संसद भवन का उद्घाटन हो जाएगा और नई बिल्डिंग से ही सारी कार्यवाही शुरू हो जाएगी. 2024 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के लिए ये बड़ी उपलब्धता होगी और पार्टी इसका पूरा फायदा उठाएगी.
  2. अटल की 100वीं जयंती- बीजेपी के लिए 2024 काफी अहम रहने वाला है. ये वो साल होगा जब पार्टी के संस्थापक और पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के जन्म के 100 साल पूरे होंगे. पार्टी अपने सबसे वरिष्ठ नेता की शताब्दी जन्म जयंती को बड़ी धूमधाम से मनाने की योजना बना रही है. सूत्रों के अनुसार 25 दिसंबर 2023 से ही पार्टी पूरे देशभर में अटल जी की याद में बड़े-बड़े कार्यक्रम करने की योजना तैयार कर रही है.
  3. राम मंदिर- 2024 लोकसभा चुनाव से ठीक पहले राम मंदिर का उद्घाटन हो जाएगा. राम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा ने बताया कि मंदिर का निर्माण कार्य योजना के अनुसार हो रहा है और दिसंबर 2023 से भक्तों को भगवान श्रीराम की पूजा करने का अवसर मिलने लगेगा. जनवरी 2024 में मकर संक्रांति उत्सव द्वारा भगवान राम की मूर्ति को गर्भगृह में स्थापित किए जाने की उम्मीद है. राम मंदिर बीजेपी के संघर्ष की निशानी है और पार्टी को इसका लाभ मिलना तय माना जा रहा है.
  4. ज्ञानवापी विवाद- 2024 से पहले वाराणसी के ज्ञानवापी विवाद पर बड़ा फैसला हो सकता है. निचली अदालत ने इस विवाद को सुनने योग्य माना है. उससे पहले हुए वीडियोग्राफी सर्वे में मस्जिद के अंदर कथित शिवलिंग भी मिला था. जिसे लेकर पूरे देश की निगाहें इस विवाद पर टिकी हैं. बीजेपी के लिए अयोध्या-काशी और मथुरा का मुद्दा काफी पुराना है. 2024 में इस मुद्दे को कैसे भुनाना है, पार्टी ये अच्छी तरह से जानती है.
  5. मथुरा जन्मस्थान विवाद- अयोध्या और काशी की तरह मथुरा का श्रीकृष्ण जन्मस्थान विवाद भी सदियों पुराना है. दावा है कि यहां भी मुगल अक्रांता औरंगजेब ने श्रीकृष्ण के मंदिर को तोड़कर शाही ईदगाह मस्जिद का निर्माण कराया था. हिंदू संगठनों का दावा है कि ईदगाह मस्जिद का निर्माण जन्मस्थान के ऊपर कराया गया है. बीजेपी ने 2022 विधानसभा चुनाव में इस मुद्दे को अच्छे से भुनाया था. अब 2024 में भी इस मुद्दे को उठाया जा सकता है. वैसे भी इस विवाद में हाईकोर्ट ने सर्वे का आदेश दे दिया है.
  6. कॉमन सिविल कोड- 2019 लोकसभा चुनाव से ठीक पहले मोदी सरकार तीन तलाक कानून लेकर आई थी. विपक्ष ने इसका जितना विरोध किया था, भगवा पार्टी को उतना ही फायदा हुआ था. इस बार भी सरकार के पास एक मास्टर स्ट्रोक है. तीन तलाक की तरह ही इस बार मोदी सरकार कॉमन सिविल कोड यानी समान नागरिक संहिता लाने का विचार कर रही है. धारा 370 की तरह ये मुद्दा भी बीजेपी के गठन से ही पार्टी का आधार बिंदु रहा है. इस मुद्दे पर पार्टी हिंदुओं को एकजुट करने में कामयाब हो सकती है.
  7. S 400 मिसाइल प्रणाली- बीजेपी के लिए राष्ट्रवाद एक बड़ा मुद्दा रहता है. पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक का मोदी सरकार को हमेशा फायदा मिलता है. 2024 से पहले देश को रूस से S 400 मिसाइल प्रणाली भी मिलने की उम्मीद है. सबसे बड़ी खासियत है कि यह करीब 400 किलोमीटर के क्षेत्र में दुश्मन के विमान, मिसाइल और यहां तक कि ड्रोन को भी नष्ट करने में सक्षम है. इसे सतह से हवा में मार करने वाली दुनिया की सबसे सक्षम मिसाइल प्रणाली माना जाता है. पाकिस्तान और चीन जैसे पड़ोसियों के चलते ये बहुत जरूरी है. आने वाले चुनाव में सरकार को इसका फायदा मिलना एकदम तय है.
  8. NRC लागू होगी- भारत में बड़ी संख्या में अवैध तरीके से बांग्लादेशी और रोहिंग्या मुसलमान रह रहे हैं. ये अब देश के कई राज्यों में फैल चुके हैं. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भी इनकी बड़ी आबादी रहती है. मोदी सरकार इन घुसपैठियों की पहचान करने के लिए NRC लेकर आई थी. विपक्ष सहित मुस्लिम समाज की ओर से इसका काफी विरोध हुआ था. कोरोना के कारण NRC को लागू नहीं हो सकी थी, लेकिन केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह इस पर अड़े हुए हैं. शाह ने इसे जल्द ही लागू करने की बात कही है. आने वाले चुनावों में ये बड़ा मुद्दा हो सकता है. पार्टी इस मुद्दे पर हिंदुओं को एकजुट कर सकती है.
  9. भगवत् गीता- देश में राष्ट्रीय गान, राष्ट्रीय गीत, राष्ट्रीय झंडे की तरह जल्द ही राष्ट्रीय ग्रंथ भी होगा. सूत्रों के मुताबिक मोदी सरकार, भगवत् गीता को राष्ट्रीय ग्रंथ घोषित करने का विचार कर रही है. इसे अमलीजामा पहनाने के लिए सरकार बड़ी संजीदगी से विचार कर रही है. इसके लिए मोदी सरकार अलग- अलग मंत्रालयों से राय ले रही है. 2024 में बीजेपी के लिए बड़ा मुद्दा साबित हो सकता है.
  10. बिखरा विपक्ष- मोदी को टक्कर देने के लिए विपक्ष का एक होना बहुत जरूरी है, लेकिन ऐसा होना असंभव सा लगता है. राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति चुनावों में विपक्षी एकता तार-तार हो चुकी है. अब नीतीश कुमार के विपक्ष में शामिल होने से मोदी विरोधी कुनबे में बढ़ोत्तरी जरूर हुई है, लेकिन इसी के साथ विपक्ष में पीएम पद के दावेदारों की लिस्ट में एक नाम और जुड़ गया है. विपक्ष की ओर से राहुल और नीतीश की कोशिशों को देखते हुए तीसरे मोर्चे के गठन की कवायद समझ में आ रही है.

You May Also Like

बॉलीवुड

मॉडल ने पंखे से लटक कर अपनी जान दे दी. मौके से एक सुसाइड नोट मिला है. सुसाइड नोट में लिखा है, मौत के...

बॉलीवुड

मुंबई के अंधेरी इलाके में 30 साल की मॉडल आकांक्षा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. आत्महत्या से पहले आकांक्षा ने सुसाइट नोट में...

देश

नई दिल्लीः भारत में आज शुक्रवार को कोरोना के मामलों में गिरावट देखने को मिली है. पिछले 24 घंटे में कोविड-19 (India Coronavirus Case) के...

बॉलीवुड

खबरों की मानें त ऋचा के हाथ में सजी मेहंदी राजस्थान से आई है. इसके साथ ही मेहंदी सेरेमनी के लिए 5 ऑर्टिस्ट्स को...

Advertisement