Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

देश

CCL की रजरप्पा परियोजना में पहली महिला उत्खनन इंजीनियर बनीं शिवानी, जानें पूरा सफर

CCL के रजरप्पा परियोजना में पहली उत्खनन इंजीनियर बनीं शिवानी (@CCLRanchi)

रांची: महिलाएं अब हर क्षेत्र में पुरूषों से कंधा-से-कंधा मिलाकर काम करने लगीं हैं. कोयला खानों में काम करने में भी अब वह पीछे नहीं हैं. आईआईटी जोधपुर से छात्र रही शिवानी मीना (Shivani Meena) कोल इंडिया (Coal India) की इकाई सीसीएल (CCL) के एक खुले खदान में काम करने वाली पहली महिला उत्खनन इंजीनियर बनी हैं. वह सेंट्रल कोलफील्ड लि. (CCL) की रजरप्पा परियोजना में काम करेंगी. यह कोयला खनन कंपनी के महत्वपूर्ण उद्यमों में से एक है. अब तक इस क्षेत्र में पुरुषों का ही वर्चस्व रहता आया है.

नारी शक्ति सर्वत्र, सीसीएल रांची को बधाई
इससे पहले, हाल ही में आकांक्षा कुमारी झारखंड की उत्तरी करनपुरा क्षेत्र में सीसीएल की चूरी भूमिगत खदान में काम करने वाली कोल इंडिया की पहली महिला खनन इंजीनियर बनी थी. केंद्रीय कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी ने ट्विटर पर लिखा है, ‘नारी शक्ति सर्वत्र. सीसीएल रांची को बधाई. उम्मीद है कि यह और महिला पेशेवरों के लिये खनन क्षेत्र से जुड़ने का रास्ता खोलेगा.’

महिला शक्ति सफलता के पथ पर
केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने सीसीएल को लिखा है, ‘महिला शक्ति सफलता के पथ पर. कोल इंडिया में पहली महिला भूमिगत खदान में खनन इंजीनियर के बाद अब सीसीएल में पहली महिला खुले खदान क्षेत्र में उत्खनन इंजीनियर बनी हैं.’ सीसीएल ने बयान में कहा कि मीना ने सीसीएल के रजरप्पा परियोजना में एक उत्खनन इंजीनियर के रूप में कार्यभार संभाला है. यह मशीनीकृत खुला खदान क्षेत्र है.

राजस्थान के भरतपुर की रहने वाली हैं शिवानी
कंपनी ने कहा, ‘यह अभूतपूर्व है क्योंकि शिवानी एक खुली खदान में काम करने वाली उत्खनन क्षेत्र की पहली महिला इंजीनियर हैं.’उन्हें भारी मशीनरी (हेवी अर्थ मूविंग मशीनरी) के रखरखाव और मरम्मत की जिम्मेदारी दी गई है. राजस्थान के भरतपुर की रहने वाली शिवानी मीना ने सीसीएल में शामिल होने से पहले आईआईटी जोधपुर से अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की.

आईआईटी जोधपुर से स्टूडेंट रही हैं शिवानी
शिवानी मीना शुरू से ही एक मेधावी छात्रा रही है. उन्होंने आइआइटी जोधपुर (IIT Jodhpur) से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग किया है. राजस्‍थान की रहने वाली शिवानी मीणा ने सीसीएल की रजरप्पा परियोजना की मेकेनाइज्‍ड खुली खदान में अपना योगदान देना शुरू किया है.

Advertisement. Scroll to continue reading.

You May Also Like

राज्य

नई दिल्ली. गुजरात और हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के बाद आज यानी 8 दिसंबर को सुबह 8 बजे से वोटों की गिनती शुरू...

देश

नई दिल्ली. देश के 2 राज्यों में विधानसभा चुनाव के बाद गुरुवार को सुबह 8 बजे से मतगणना हो रही है. गुजरात में एक...

देश

गुजरात में एक और 5 दिसंबर को विधानसभा चुनाव के लिए 63.14 फीसदी वोट डाले गए थे. वहीं हिमाचल में 12 नवंबर को 75.6...

राज्य

अब तक रुझानों के अनुसार एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी राज्य में प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाने जा रही है. कांग्रेस और...

Advertisement