Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

देश

दिसंबर 2023 तक पूरे देश में Jio की शुरू होगी 5G सर्विस, मुकेश अंबानी ने किया ऐलान

भारत को 3,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था से वर्ष 2047 तक 40,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाकर और प्रति व्यक्ति आय को मौजूदा 2,000 डॉलर से बढ़ाकर 20,000 डॉलर तक ले जाकर वृद्धि को गति दी जा सकती है.

Mukesh Ambani
Mukesh Ambani

नई दिल्ली. रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने शनिवार को ऐलान किया कि जियो (Jio) अगले साल दिसंबर तक पूरे देश में 5जी (5G Service) दूरसंचार सेवाओं की शुरुआत कर देगी. अंबानी ने ‘इंडिया मोबाइल कांग्रेस’ सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मैं दिसंबर 2023 तक देश के हर शहर, हर तालुका और हर तहसील में 5जी पहुंचाने की जियो की प्रतिबद्धता को दोहराना चाहता हूं.’’ इसके पहले अंबानी ने आरआईएल के शेयरधारकों की अगस्त में हुई सालाना बैठक में कहा था कि दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता में दीपावली तक 5जी सेवाएं शुरू कर दी जाएंगी.

इस खबर में ये है खास-

  • आत्म निर्भर भारत की लगी मुहर
  • डिजिटल सोसाइटी में आगे होगा भारत

आत्म निर्भर भारत की लगी मुहर

अंबानी ने कहा कि जियो की अधिकांश 5जी प्रौद्योगिकी (5G Technology) भारत में ही विकसित की गई है, इसलिए इस पर ‘आत्मनिर्भर भारत’ की मुहर लगी हुई है. उन्होंने कहा कि 5जी और 5जी-आधारित डिजिटल समाधान आम भारतीयों तक सस्ती एवं उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा और कौशल विकास को पहुंचा सकते हैं. अंबानी के मुताबिक, 5जी प्रौद्योगिकी बिना किसी अतिरिक्त निवेश के मौजूदा अस्पतालों को स्मार्ट अस्पतालों में बदलकर ग्रामीण और दूरदराज के क्षेत्रों में अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान कर सकती है.

डिजिटल सोसाइटी में आगे होगा भारत

इससे उपचार की गति और सटीकता में नाटकीय सुधार होगा और वास्तविक समय में निर्णय लिए जा सकेंगे. उन्होंने कहा कि 5जी सेवा कृषि, सेवा क्षेत्र, व्यापार, उद्योग, परिवहन और ऊर्जा अवसंचना के डिजिटलीकरण और उनके डेटा प्रबंधन में तेजी लाकर शहरी और ग्रामीण भारत के बीच की खाई को पाटने में सक्षम है. अंबानी ने कहा कि जनसांख्यिकी और डिजिटल प्रौद्योगिकी की मिली-जुली ताकत के दम पर भारत दुनिया की अग्रणी डिजिटल सोसाइटी बन सकता है.

Advertisement. Scroll to continue reading.

भारत को 3,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था से वर्ष 2047 तक 40,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाकर और प्रति व्यक्ति आय को मौजूदा 2,000 डॉलर से बढ़ाकर 20,000 डॉलर तक ले जाकर वृद्धि को गति दी जा सकती है. रिलायंस इंडस्ट्रीज के प्रमुख ने कहा, ‘‘यह कहना अतिश्योक्ति नहीं होगी कि 5जी एक डिजिटल कामधेनु की तरह है, यह हमें जो कुछ भी चाहिए वह दे सकती है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘भारत ने भले ही थोड़ी देर से शुरुआत की हो, लेकिन हम दुनिया की तुलना में उच्च गुणवत्ता वाली और अधिक किफायती 5जी सेवाएं शुरू करेंगे.’’

You May Also Like

कोरोनावायरस

दुनिया पर एक नए वायरस का खतरा मंडराने लगा है. ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के अनुसार फ्रांस के वैज्ञानिकों ने 48,500 साल पुराने जॉम्बी...

स्पोर्ट्स

IND vs AUS Hockey: इंडियन टीम ऑस्ट्रेलिया में चल रही 5 मैचों की हॉकी सीरीज के तीसरे मैच में वर्ल्ड नंबर ऑस्ट्रेलिया को हराकर...

देश

ICAI CA Foundation Admit Card Out: इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया ने आईसीएआई सीए फाउंडेशन दिसंबर एडमिट कार्ड 2022 जारी कर दिया है....

देश

BJP Vs Congress: रक्षामंत्री (Defence Minister) राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की तुलना रावण से करने के लिए...

Advertisement