Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

देश

J&K: महबूबा मुफ्ती को अभी भी Article-370 हटने का दर्द, श्रीनगर में PDP ने किया प्रदर्शन

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 (Article 370) को हटे हुए तीन साल पूरे हो गए हैं. इन तीन सालों में नए जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) की फिजां में जबर्दस्त बदलाव आया है. दहशत का माहौल अब काफी बदल चुका है. अब डल झील के इलाके में देर रात तक चहल पहल रहती है.

Mehbooba Mufti
महबूबा मुफ्ती को अभी भी Article-370 हटने का दर्द (File Photo: ANI)

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 (Article 370) को हटे हुए तीन साल पूरे हो गए हैं. इन तीन सालों में नए जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) की फिजां में जबर्दस्त बदलाव आया है. दहशत का माहौल अब काफी बदल चुका है. अब डल झील के इलाके में देर रात तक चहल पहल रहती है. हालांकि पूर्व मुख्यमंत्री और PDP अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) को अभी भी आर्टिकल 370 हटने का दर्द है.

इस खबर में ये है खास

  • 2019 में खत्म हुआ था आर्टिकल 370
  • हम अपना झंडा वापस लेकर रहेंगे-महबूबा
  • ट्विटर पर अमान्य झंडे की तस्वीर लगाई
  • घाटी में अब दुरुस्त हुआ लॉ एंड आर्डर
  • 370 हटने के बाद कम हुआ आतंक

2019 में खत्म हुआ था आर्टिकल 370

मोदी सरकार ने आज (5 अगस्त 2022) से ठीक 3 साल पहले यानी 5 अगस्त 2019 अनुच्छेद 370 को खत्म किया था. इसके साथ ही राज्य को 2 केंद्र शासित प्रदेश (जम्मू-कश्मीर और लद्दाख) के रूप में विभाजित कर दिया था. पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती को इस बात का दुख आज भी है. महबूबा मुफ्ती ने इसके विरोध में आज (शुक्रवार को) श्रीनगर में विरोध-प्रदर्शन किया. इस दौरान महबूबा ने आज के दिन को ‘काला दिन’ और 370 हटाए जाने को ‘काला फैसला’ करार दिया.

हम अपना झंडा वापस लेकर रहेंगे-महबूबा

महबूबा मुफ्ती ने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि इन लोगों ने अलोकतांत्रिक तरीके से हमारा झंडा छीन लिया है. महबूबा ने कहा कि हमने संकल्प लिया है कि हम अपना झंडा वापस लेकर रहेंगे. यही नहीं हम इन लोगों को जम्मू कश्मीर की समस्या का समाधान निकालने के लिए भी बाध्य करेंगे. उन्होंने बीजेपी से देश का संविधान और धर्मनिरपेक्षता को खतरा बताया.

Advertisement. Scroll to continue reading.

J&K से धारा 370 हटने के 3 साल: 174 जवान शहीद, 124 आम लोगों ने भी गंवाई जान

ट्विटर पर अमान्य झंडे की तस्वीर लगाई

इससे पहले महबूबा मुफ्ती ने अपने ट्विटर अकाउंट की डीपी बदलते हुए तिरंगे के साथ जम्मू-कश्मीर का अमान्य झंडा लगाया था. नई डीपी लगाते हुए उन्होंने कहा था कि उसका ‘झंडा’ भले ही छीन लिया गया हो, लेकिन इसे लोगों की सामूहिक चेतना से नहीं मिटाया जा सकता. उन्होंने जो डीपी लगाई है उसमें उनके पिता मुफ्ती मोहम्मद सईद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी साथ बैठे दिख रहे हैं. तस्वीर में राष्ट्र ध्वज और अब अमान्य हो चुका जम्मू-कश्मीर का झंडा दिख रहा है.

घाटी में अब दुरुस्त हुआ लॉ एंड आर्डर

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने धारा 370 के निरस्तीकरण के पहले और बाद के 3 साल की घटनाओं की तुलना करते हुए डाटा शेयर किया है. जम्मू-कश्मीर पुलिस ने जानकारी दी है कि कश्मीर जोन में आतंकी घटनाओं में कमी आई है. पुलिस ने इन मामलों को 6 कैटेगरी में बांटा है. इनमें लॉ एंड ऑर्डर की घटनाएं जो 5 अगस्त 2016 से 4 अगस्त 2019 के बीच में 3,686 हुई थीं. 5 अगस्त 2019 से 4 अगस्त 2022 के बीच में सिर्फ 438 ही हुईं.

Advertisement. Scroll to continue reading.

370 हटने के बाद कम हुआ आतंक

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बताया कि 5 अगस्त 2016 से 4 अगस्त 2019 के बीच कुल 930 घटनाएं हुई थीं. जो 370 हटाए जाने के बाद घटकर 617 हो गईं. धारा 370 से हटने से तीन साल पहले तक 290 जवान शहीद हुए थे और 191 नागरिक मारे गए थे. वहीं धारा 370 हटाए जाने के 3 साल बाद 174 जवान शहीद हुए और 110 लोग मारे गए हैं.

You May Also Like

क्रिकेट

दुनिया भर में टी 20 क्रिकेट लीग का क्रेज बढ़ता जा रहा है. IPL की बड़ी सफलता के बाद क्रिकेट खेलने वाले प्रत्येक देश...

क्रिकेट

ZIM vs BAN: जिंबाब्वे ने तीन मैचों की वनडे सीरीज के दूसरे मैच में बांग्लादेश को 5 विकेट से हरा दिया है. जीत के...

स्पोर्ट्स

CWG 2022: भारतीय महिला हॉकी टीम (Indian women hockey team) ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में अपना सफर ब्रांज मेडल के साथ समाप्त किया है....

क्रिकेट

IND vs WI: वेस्टइंडीज के खिलाफ 5 वें और आखिरी टी 20 मुकाबले में भारतीय टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए श्रेयस...

Advertisement