Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

देश

अग्निपथ योजना के खिलाफ सड़क पर उतरेगा संयुक्त किसान मोर्चा, 7 अगस्त से राष्ट्रव्यापी मुहिम शुरू

Yogendra Yadav
योगेंद्र यादव : (File Photo/ ANI)

नई दिल्ली: संयुक्त किसान मोर्चा (Samyukt Kisan Morcha) सेना में भर्ती संबंधी केंद्र की ‘अग्निपथ योजना’ (Agnipath Scheme) के खिलाफ रविवार को एक राष्ट्रव्यापी अभियान शुरू करेगा. यह मुहिम सेवानिवृत्त सैन्य कर्मियों के यूनाइटेड फ्रंट और कई युवा संगठनों के सहयोग से शुरू की जाएगी.
स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव (Swaraj India president Yogendra Yadav) ने शनिवार को कहा, मुहिम के तहत पहला कदम उठाते हुए सात अगस्त से 14 अगस्त तक जय जवान जय किसान सम्मेलन आयोजित किया जाएगा.

खबर में खास

  • योगेंद्र यादव (Yogendra Yadav) ने क्या कहा जानिए
  • ‘अग्निपथ योजना’ (Agnipath Scheme) विनाशकारी
  • इस अभियान के तहत कुछ प्रमुख कार्यक्रम
  • ‘अग्निपथ योजना’ को जानिए

योगेंद्र यादव ने क्या कहा जानिए

योगेंद्र यादव (Yogendra Yadav) ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, इस मुहिम का लक्ष्य लोगों को विवादास्पद अग्निपथ योजना के विनाशकारी परिणामों के बारे में बताना और लोकतांत्रिक, शांतिपूर्ण एवं संवैधानिक तरीकों का इस्तेमाल करके केंद्र पर इसे वापस लेने लिए दबाव डालना है.

‘अग्निपथ योजना’ (Agnipath Scheme) विनाशकारी

योगेंद्र यादव (Yogendra Yadav) कहा, अगर (तीन) कृषि कानून क्रूर थे, तो ‘अग्निपथ योजना’ (Agnipath Scheme) विनाशकारी है. यदि हमारे किसान और सैनिक संकट में होंगे, तो इससे हमारे देश की रीढ़ की हड्डी टूटने का खतरा है. हमारी चुप्पी सरकार को देश के रक्षकों एवं अन्नदाताओं को नष्ट करने देने का कारण नहीं बन सकती. हमने उन्हें एक बार रोका है, हम उन्हें फिर से रोक सकते हैं.

Advertisement. Scroll to continue reading.

इस अभियान के तहत कुछ प्रमुख कार्यक्रम

योगेंद्र यादव (Yogendra Yadav) ने बताया कि इस अभियान के तहत कुछ प्रमुख कार्यक्रम हरियाणा के जींद जिले, उत्तर प्रदेश के मथुरा और पश्चिम बंगाल के कोलकाता में रविवार को होंगे. इसके अलावा, रेवाड़ी (हरियाणा) और मुजफ्फरनगर (उत्तर प्रदेश) में नौ अगस्त, इंदौर (मध्य प्रदेश) में और मेरठ (उत्तर प्रदेश) में 10 अगस्त और पटना में 11 अगस्त को कार्यक्रम होंगे.

योगेंद्र यादव (Yogendra Yadav) ने मांग की कि अग्निपथ योजना को वापस लिया जाना चाहिए और नियमित एवं स्थायी भर्ती की पुरानी व्यवस्था बहाल की जानी चाहिए.

‘अग्निपथ योजना’ को जानिए

बता दें कि ‘अग्निपथ योजना’ (Agnipath Scheme) भारत सरकार की तरफ से 14 जून 2022 को सैनिकों की भर्ती के लिए शुरू की गई एक नई योजना (Agnipath Scheme) है. ‘अग्निपथ योजना’ (Agnipath Scheme) थलसेना, नौसेना और वायु सेना में सैनिकों की भर्ती संबंधी एक योजना है, जिसके तहत 4 साल के लिए संविदा के आधार पर नियुक्ति का प्रावधान है.

Advertisement. Scroll to continue reading.

You May Also Like

राज्य

नई दिल्लीः जम्मू कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पहलगाम में बड़ा हादसा हुआ है. बताया जा रहा है कि ITBP की एक बस हादसे का शिकार...

क्रिकेट

Cricket in Olympics: क्रिकेट को अगर 2028 में लॉस एंजलिस में होने वाले ओलंपिक खेलों में शामिल नहीं किया जाता है तो क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया...

क्रिकेट

नई दिल्ली: 18 अगस्त से जिम्बाब्वे (IND vs ZIM) के खिलाफ शुरू हो रही तीन मैचों की वनडे सीरीज के लिए शाहबाज अहमद (Shahbaz...

राज्य

Shopian Attack: दक्षिण कश्मीर के शोपियां में मनिहेल बतापोरा स्थित अल्पसंख्यक समुदाय के रिहायशी इलाके की रखवाली कर रहे सीआरपीएफ बंकर पर आतंकियों ने...

Advertisement