Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

देश

जानें महिलाओं के पांच कठिन व्रत के बारे में, कैसे करती हैं पूरा?

toughest fast in hindu religion
toughest fast in hindu religion

हिंदू धर्म में व्रत का विशेष महत्व है. लोग अपनी श्रद्धानुसार अलग- अलग देवी देवातओं की उपासना के लिए व्रत रखते हैं और उनकी कृपा प्राप्त करते हैं. आपने भी अक्सर अपने घर में अपनी मम्मी दादी को कोई ना कोई व्रत करते देखा होगा. महिलाएं साल भर कोई ना कोई व्रत रखती हैं ये व्रत साप्ताहिक या वार्षिक हो सकते हैं. यानि अलग-अलग मान्यता के लिए अलग-अलग व्रत रखने का विधान हमारे पुराणों में बताए गए हैं. मान्यता है कि व्रत रखने से देवी देवता प्रसन्न होते हैं और भक्तों पर विशेष कृपा बरसाते हैं. तो आज हम आपको महिलाओं के ऐसे पांच व्रत के बारे में बताने जा रहे हैं जो सबसे ज्यादा कठिन व्रत माने जाते हैं, लेकिन महिलाएं इन मुश्किल से मुश्किल व्रत को भी बड़ी आसानी से पूरा कर लेती हैं. इसमें सबसे पहला नाम आता है छठ व्रत

1-पहले बिहार-झारखंड में मुख्य रूप से मनाए जाने वाले इस पर्व को अब देश के कई हिस्सों में पूरी श्रद्धा से मनाया जाता है. इस दिन भगवान सूर्य व छठी मैया की पूजा की जाती है. दिवाली के ठीक 6 दिन बाद यानि कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि से शुरु होने वाले इस त्योहार को बड़े ही नियम से रखा जाता है. सबसे कठिन व्रतों में शामिल इस व्रत में महिलाएं 36 घंटे निर्जला उपवास रखती हैं. पहले दिन नहाय खाय से लेकर चौथे दिन सुबह सूर्य को अर्घ देने तक पूरी निष्ठा से पालन करती हैं. मान्यता है कि ऐसा करने से भगवान सूर्य देव धन धान्य समृद्धि प्रदान करते हैं साथ ही बेटे और पति की रक्षा करते हैं.

2-जीवित पुत्रिका व्रत या जीउतपुत्रीका व्रत महिलाएं अपने पुत्र के लंबी आयु के लिए रखती हैं. आश्विन मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को उपवास रखकर महिलाएं जीमूतवाहन की पूजा करती हैं. ये व्रत सप्तमी तिथि से शुरू होता है जो नवमी तिथि को समाप्त होता है. नहाय खाय से इस व्रत का शुभारंभ होता है यानि इस दिन महिलाएं नहाने के बाद एक बार भोजन लेती हैं उसके बाद बिना कुछ खाये दूसरे दिन तक निर्जला व्रत रखती हैं और उसके अगले दिन व्रत का पारण किया जाता है.

3-हरतालिका तीज सुहागिन महिलाएं अपनी पति की लंबी उम्र के लिए रखती हैं. ये व्रत भाद्रपद शुक्ल पक्ष की तृतीया को मनाया जाता है इस व्रत की खास बात ये है कि इस व्रत के दौरान पूरे 24 घंटे महिलाएं बिना अन्न जल ग्रहण किए उपवास रखती हैं. इसमें व्रती महिलाएं शिव-पार्वती की पूजा करती हैं और रात्रि जागरण करती हैं. मान्यता है कि इस व्रत में रात्रि जागरण इसलिए किया जाता है जिससे महिलाएं सोए नहीं अन्यथा व्रत का पूरा लाभ नहीं मिलता. व्रत के अगले दिन शिव पार्वती की विधिवत पूजा कर अन्न ग्रहण कर व्रत का पारण किया जाता है.

4-पति की लंबी आयु के लिए वैसे तो महिलाएं कई कठिन व्रत करती हैं इसमें एक करवा चौथ भी है. करवा चौथ का त्योहार कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को मनाया जाता है, जो फिल्मों में भी काफी पॉपुलर है. करवाचौथ का व्रत सूर्योदय से पहले 4 बजे के बाद शुरु हो जाता है जो रात्रि में चंद्र दर्शन के बाद ही खोला जाता है. इस दिन महिलाएं लाल जोड़े में एकदम नई नवेली दुल्हन बनकर तैयार होती हैं और पूजा करती हैं. इस व्रत में महिलाएं पूरा दिन निर्जला उपवास रखती हैं और शाम को शिव का पूरा परिवार यानि गणेश पार्वती कार्तिकेय की एकसाथ पूजा की जाती है. सुहागिनें इस व्रत को बड़े ही धूमधाम से मनाती हैं. जिससे ये एक त्योहार जैसा लगता है.

Advertisement. Scroll to continue reading.

5-निर्जला एकादशी व्रत को लेकर मान्यता है कि मात्र इस एक दिन व्रत करने से पूरे सालभर के एकादशी व्रत के समान फल मिलता है. इस व्रत में भी सूर्योदय के बाद और अगले दिन सूर्योदय तक अन्न जल ग्रहण नहीं करते. इस दिन भगवान विष्णू की उपासना की जाती है. ये व्रत ज्येष्ट माह में शुक्लपक्ष की एकादशी तिथि को रखा जाता है. मान्यता है कि इस व्रत को करने से साधक को लंबी उम्र के साथ सुख समृद्धि का वरदान मिलता है. भीषण गर्मी के मौसम में बिना पानी पिये हम और आप एक घंटे भी नहीं रह सकते लेकिन जरा सोचिये व्रती महिलाएं 24 घंटे बिना पानी के इस व्रत को करती है और इसीलिए इस व्रत को भी हिंदू धर्म में एक कठिन व्रत माना जाता है.

You May Also Like

टेक-ऑटो

नई दिल्ली : चाइना की स्मार्टफोन निर्माता कंपनी Xiaomi ने अपना नया स्मार्टफोन Civi 2 को लॉन्च कर दिया है. कंपनी द्वारा इस स्मार्टफोन...

बॉलीवुड

Bigg Boss: बिग बॉस एक ऐसा रियलिटी शो है, जो टीआरपी में सबसे आगे रहा है. आगामी 1 अक्टूबर से कलर्स टीवी पर बिग...

क्रिकेट

Australia Team Announced, AUS vs WI: अनुभवी सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर और तीन अन्य शीर्ष खिलाड़ी वेस्टइंडीज के खिलाफ दो मैच की सीरीज के...

देश

देश में धार्मिक कट्टरता को बढ़ावा देकर आतंकवाद फैलाने वाले मुस्लिम संगठन PFI पर मोदी सरकार ने 5 साल के लिए बैन लगा दिया...

Advertisement