Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

देश

कांग्रेस नेताओं के 5000 अकाउंट लॉक, राहुल गांधी बोले- राजनीति में दखल दे रही कंपनी

Rahul gandhi
हमारी राजनीति का दायरे को तय करने की कोशिश : राहुल गांधी (ANI)

भारत में ट्विटर को लेकर एक अलग ही सियासत चल रही है. आप सोच रहे होंगे कि आखिर अमेरिकी कंपनी को लेकर भारत में सियासी जंग क्यों छिड़ी है. तो आपको सबसे पहले ट्विटर भारत की राजनीति में नेताओं के ट्वीट को पढ़ना और समझना होगा. आखिर ट्विटर अकाउंट बंद करने का खेल क्यों चल रहा है. आपको याद होगा कि बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद का भी ट्विटर ने अकाउंट लॉक कर दिया था. वह तब जब रविशंकर प्रसाद देश के कानून मंत्री थे और अमेरिकी कंपनी ट्विटर ने उनका अकाउंट बंद कर दिया. फिर कई नेताओं के ट्विटर अकाउंट बंद करने की खबरें सामने आई. वह भी जानी मानी हस्तियों की. अब ऐसा ही कुछ कांग्रेस नेता और उनकी पार्टी के साथ हो रहा है. कुछ दिन पहले ट्विटर ने राहुल गांधी का अकाउंट लॉक कर दिया. जिसके लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ट्विटर ऑफिस के बाहर विरोध प्रदर्शन किया.

भारत की राजनीतिक प्रक्रिया में दखल दे रही है कंपनी
वहीं, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपना ट्विटर अकाउंट बंद (लॉक) किये जाने को लेकर शुक्रवार को इस माइक्रोब्लॉगिंग मंच पर निशाना साधा. उन्होंने आरोप लगाया कि यह अमेरिकी कंपनी पक्षपातपूर्ण है, यह भारत की राजनीतिक प्रक्रिया में दखल दे रही है और सरकार के कहे अनुसार चल रही है. राहुल गांधी ने यह दावा भी किया कि ट्विटर की ओर से जो किया गया है वह भारत के लोकतांत्रिक ढांचे पर हमला है.

मेरा ट्विटर अकाउंट बंद करके वे हमारी राजनीतिक प्रक्रिया में दखल दे रहे हैं
राहुल गांधी ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर कहा, ‘मेरा ट्विटर अकाउंट बंद करके वे हमारी राजनीतिक प्रक्रिया में दखल दे रहे हैं. एक कंपनी हमारी राजनीति का दायरा तय करने के लिए अपने कारोबार का उपयोग कर रही है. एक नेता के तौर पर मैं इसे पसंद नहीं करता.’
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने दावा किया, ‘यह हमारे देश के लोकतांत्रिक ढांचे पर हमला है. यह राहुल गांधी पर हमला नहीं है. सिर्फ यह नहीं है कि राहुल गांधी का अकाउंट बंद कर दिया गया. मेरे पास 1.9 करोड़ से दो करोड़ के बीच फॉलोवर हैं. आप उन्हें अपने विचार रखने के अधिकार से वंचित कर रहे हैं. आप यही कर रहे हैं.’ राहुल गांधी ने आरोप लगाया, ‘यह सिर्फ अनुचित ही नहीं, बल्कि उस विचार की अहवेलना है कि ट्विटर एक तटस्थ मंच है. यह निवेशकों के लिए बहुत खतरनाक है क्योंकि राजनीतिक मुकाबले में किसी एक का पक्ष लेने पर ट्विटर के लिए प्रतिक्रियां भी होंगी.’

हम संसद के अंदर बोल नहीं सकते. मीडिया नियंत्रित है
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने यह कहा-‘हमारे लोकतंत्र पर हमला किया गया है. हम संसद के अंदर बोल नहीं सकते. मीडिया नियंत्रित है. मैंने सोचा था कि यह उम्मीद एक रोशनी है जहां हम ट्विटर पर अपने विचार रख सकते थे, लेकिन यह बात नहीं है.’ उन्होंने कहा, ‘अब यह साफ है कि ट्विटर तटस्थ और उद्देश्यात्मक मंच नहीं है. यह पक्षपातपूर्ण मंच है. यह वही सुनता है, जो सरकार कहती है.’ दरअसल, गुरुवार को कांग्रेस ने दावा किया कि ट्विटर ने पक्षपातपूर्ण कार्रवाई करते हुए सरकार के कहने पर अब तक 5000 अकाउंट को बंद किया हैं.

ट्विटर ने कहा है कि उसने ये कदम नियमों के तहत उठाए हैं
बता दें कि ट्विटर ने राहुल गांधी, कांग्रेस और पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं के ट्विटर अकाउंट बंद कर दिये हैं. कुछ दिनों पहले ही दिल्ली में रेप और हत्या की पीड़िता 9 साल की बच्ची के माता-पिता से मुलाकात की तस्वीर साझा करने को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का ट्विटर अकाउंट बंद किया गया था. दूसरी तरफ, ट्विटर ने कहा है कि उसने ये कदम नियमों के तहत उठाए हैं.

Advertisement. Scroll to continue reading.

You May Also Like

राज्य

नई दिल्ली. गुजरात और हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के बाद आज यानी 8 दिसंबर को सुबह 8 बजे से वोटों की गिनती शुरू...

देश

नई दिल्ली. देश के 2 राज्यों में विधानसभा चुनाव के बाद गुरुवार को सुबह 8 बजे से मतगणना हो रही है. गुजरात में एक...

देश

गुजरात में एक और 5 दिसंबर को विधानसभा चुनाव के लिए 63.14 फीसदी वोट डाले गए थे. वहीं हिमाचल में 12 नवंबर को 75.6...

राज्य

अब तक रुझानों के अनुसार एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी राज्य में प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाने जा रही है. कांग्रेस और...

Advertisement