Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

राज्य

Bihar Politics: 10 प्वाइंट में समझिए बिहार की राजनीति का मौजूदा पूरा खेल

Nitish kumar
Nitish kumar (Photo/ PTI)

Bihar Politics: बिहार की सियासत पर इस वक्त पूरे देश की निगाहें टिकी हुई है. इसकी वजह है एक ही दिन कभी एक साथ सरकार चलाए आरजेडी और जेडीयू की बैठक होना. हालांकि, दोनों दल अपने नेताओं के साथ अलग-अलग मीटिंग करेंगे, लेकिन इस बैठक से पूरे बिहार के सियासी माहौल को गर्म कर दिया है. सियासी हलकों में चर्चा होने लगी है कि नीतीश कुमार एनडीए का साथ छोड़कर आरजेडी के साथ हाथ मिलाएंगे. इन्हीं सब चर्चाओं के बीच चलिए 10 प्वॉइंट समझते हैं सारा माजरा क्या है?

10 प्वॉइंट समझते हैं सारा माजरा क्या है?

1. पूर्व केंद्रीय मंत्री आरसीपीसिंह ने शनिवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जनता दल (यूनाइटेड) छोड़ दी. इसके कुछ घंटे पहले यह खबर आयी थी कि पार्टी ने कुछ कार्यकर्ताओं की तरफ से लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों पर उनसे स्पष्टीकरण मांगा गया था.

2. दअसल, जडीयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सिंह को पार्टी द्वारा राज्यसभा का एक और कार्यकाल से इनकार करने के बाद अपना मंत्रिपद छोड़ना पड़ा था. उन्होंने शानिवार को पार्टी छोड़ने की घोषणा नालंदा जिले स्थित अपने पैतृक आवास पर की.

3. ललन सिंह ने कहा, एक और राज्यसभा कार्यकाल से वंचित होने के बाद केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने वाले आरसीपी सिंह ने जेडीयू से इस्तीफा दिया हो, पर उन्हें देर-सवेर तो जाना ही था, क्योंकि उनका तन यहां (जडीयू में) और मन कहीं और था. जडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने आरसीपी के बारे में कहा, वे सत्ता के साथी रहे हैं, न कि संघर्ष के. सत्ता हाथ से निकल गयी ऐसे में उनकी बौखलाहट स्वभाविक है.

4. जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने साल 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में अपनी पार्टी को कम सीट आने की चर्चा करते हुए कहा था कि उनकी पार्टी के 43 सीट जीतने के पीछे जनाधार का कम होना नहीं, बल्कि नीतीश कुमार के खिलाफ रची गई साजिश थी. ललन ने कहा कि 2020 में एक चिराग मॉडल आया था, अब एक और चिराग मॉडल तैयार करके साजिश किया जा रहा था जिसको लेकर हमलोग अब सर्तक हैं. साजिश कैसे हुआ कहां हुआ हमें मालूम है, समय आने पर बताया जाएगा.

5. लोक जनशक्ति पार्टी के पूर्व प्रमुख चिराग पासवान ने रविवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड पर पलटवार किया. जडीयू ने चिराग पर आरोप लगाया था कि 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में उनकी वजह से पार्टी अधिक सीटें हासिल नहीं कर सकी.

6. पासवान ने इसपर पलटवार करते हुए कहा, मैं सकारात्मक राजनीति करता हूं. किसी का कोई मॉडल नहीं हूं. दूसरे का घर तोड़ने वाले के घर में ही आज फूट हो गयी है. बेहतर होगा कि वे कारणों को बाहर चौराहे पर ना तलाशे.

7. बीजेपी के नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार में अगला लोकसभा और विधानसभा चुनाव लड़ने के वादे के बारे पूछे जाने पर ललन ने कहा, मैं 2024 या 2025 के बारे में कुछ भी आश्वासन के साथ कैसे कह सकता हूं. मैं यह नहीं कह सकता कि मैं कल जीवित रहूंगा या नहीं.

8. लोकसभा सदस्य ललन ने कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री द्वारा बुलाई गई पार्टी सांसदों की बैठक के एजेंडे के बारे में कोई जानकारी नहीं है. बैठक के बारे में कोई आधिकारिक पुष्टि अभी नहीं हुई है पर पार्टी सूत्रों ने कहा कि विधायकों और सांसदों के मंगलवार को जेडीयू नेता के साथ बातचीत करने की संभावना है.

9. बिहार में सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक दलों, जनता दल-यूनाइटेड (जेडीयू) और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में ‘मनमुटाव’ की अटकलों के बीच प्रदेश की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने सोमवार को कहा कि अगर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बीजेपी के साथ संबंध तोड़ देते हैं तो वह उन्हें और उनकी पार्टी को गले लगाने के लिए तैयार हैं.

10. ऐसी भी खबरें हैं कि विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने अपने विधायकों को अगले कुछ दिनों के लिए पटना में रहने का आदेश दिया है, जिससे यहां मीडिया के एक वर्ग में जोरदार अटकलें लगाई जा रही हैं कि राज्य में एक और महत्वपूर्ण राजनीतिक घटनाक्रम होने वाला है.

You May Also Like

टेक-ऑटो

नई दिल्ली : चाइना की स्मार्टफोन निर्माता कंपनी Xiaomi ने अपना नया स्मार्टफोन Civi 2 को लॉन्च कर दिया है. कंपनी द्वारा इस स्मार्टफोन...

बॉलीवुड

Bigg Boss: बिग बॉस एक ऐसा रियलिटी शो है, जो टीआरपी में सबसे आगे रहा है. आगामी 1 अक्टूबर से कलर्स टीवी पर बिग...

क्रिकेट

Australia Team Announced, AUS vs WI: अनुभवी सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर और तीन अन्य शीर्ष खिलाड़ी वेस्टइंडीज के खिलाफ दो मैच की सीरीज के...

देश

देश में धार्मिक कट्टरता को बढ़ावा देकर आतंकवाद फैलाने वाले मुस्लिम संगठन PFI पर मोदी सरकार ने 5 साल के लिए बैन लगा दिया...

Advertisement