Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

राज्य

दोषियों की रिहाई ने शांति छीनी, न्याय पर भरोसा डिग गया है : बिल्कीस बानो

Bilkis Bano
Bilkis Bano case

नई दिल्ली: बिल्कीस बानो केस (Bilkis Bano Case) में उम्र कैद की सजा काट रहे दोषियों की रिहाई के बाद से राजनीति तेज हो गई है. विपक्ष लगातार बीजेपी पर हमलावर है. वहीं इस फैसले के बाद गुजरात में 2002 में गोधरा कांड के बाद हुए दंगों की पीड़िता बिल्कीस बानो की प्रतिक्रिया (Bilkis Bano Reaction) सामने आई है. पीड़िता बिल्कीस बानो ने कहा कि उनके और उनके परिवार के सात लोगों से जुड़े मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे 11 दोषियों की समयपूर्व रिहाई से न्याय पर उनका भरोसा डिग गया है.

खबर में खास
  • बिल्कीस बानो ने की अपील
  • कहा मैं स्तब्ध हूं
  • महिलाओं के लिए न्याय कैसे खत्म हो सकता
बिल्कीस बानो ने की अपील

बिल्कीस बानो ने गुजरात सरकार से ‘‘इस फैसले को वापस लेने’’ और ‘‘बिना डर और शांति से जीवन जीने’’ का उनका अधिकार लौटाने की अपील की है. बिल्कीस बानो से सामूहिक बलात्कार और उनके परिवार के सात सदस्यों की हत्या के मामले के दोषी सभी 11 लोगों को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत गुजरात सरकार ने माफी नीति के तहत माफी दे दी थी, जिसके बाद 15 अगस्त को उन्हें गोधरा उप-कारागार से रिहा कर दिया गया.

कहा मैं स्तब्ध हूं

सरकार के इस कदम की आलोचना करते हुए बिल्कीस ने कहा, ‘‘इतना बड़ा और अन्यायपूर्ण फैसला’’ करने से पहले किसी ने उनकी सुरक्षा के बारे में नहीं पूछा और न ही उनके कुशलक्षेम के बारे में सोचा.
बिल्कीस बानो की वकील शोभा ने उनकी ओर से एक बयान जारी किया. बयान में बानो ने कहा, ‘‘ दो दिन पहले 15 अगस्त 2022 को जब मैंने सुना कि मेरे परिवार और मेरी जिन्दगी बर्बाद करने वाले, मुझसे मेरी तीन साल की बच्ची छीनने वाले 11 दोषियों को आजाद कर दिया गया है तो 20 साल पुराना भयावह मंजर मेरी आंखों के सामने फिर से आ गया.’ मेरे पास शब्द नहीं हैं. मैं अब भी स्तब्ध हूं.’’

महिलाओं के लिए न्याय कैसे खत्म हो सकता

उन्होंने कहा कि वह सिर्फ इतना ही कह सकती हैं, ‘‘किसी महिला के लिए न्याय ऐसे कैसे खत्म हो सकता है?’’ बिल्कीस बानो ने कहा, ‘‘मैंने अपने देश के उच्चतम न्यायालय पर भरोसा किया. मैंने तंत्र पर भरोसा किया और मैं धीरे-धीरे अपने भयावह अतीत के साथ जीना सीख रही थी. दोषियों की रिहाई ने मेरी शांति छीन ली है और न्याय पर से मेरा भरोसा डिग गया है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरा दुख और मेरा टूट रहा भरोसा सिर्फ मेरी समस्या नहीं है, बल्कि इसका राब्ता अदालतों में न्याय के लिए लड़ रहीं सभी महिलाओं से है.’’

मुंबई में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की एक विशेष अदालत ने 11 दोषियों को बिल्कीस बानो के साथ सामूहिक बलात्कार और उनके परिवार के सात सदस्यों की हत्या करने के मामले में 21 जनवरी 2008 को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी. बाद में बंबई उच्च न्यायालय ने उनकी दोषसिद्धि को बरकरार रखा था.

You May Also Like

राज्य

नई दिल्ली. राजस्थान में सियासी संकट (Rajasthan Congress Crisis) ने कांग्रेस के सामने नई मुसीबत खड़ी कर दी है. राजस्थान कांग्रेस के संकट ने...

टेक-ऑटो

नई दिल्ली : OnePlus कंपनी जल्द भारतीय मार्केट में अपना नया बजट सेगमेंट स्मार्टवॉच लॉन्च करने वाली है. कंपनी इस स्मार्टवॉच को अपनी बहुप्रतिष्ठित...

देश

भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) के माध्यम से राहुल गांधी कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश कर रहे हैं. दक्षिण भारत...

विदेश

नई दिल्लीः PM Modi आज जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के राजकीय अंतिम संस्कार में शामिल होने पहुंचे हैं. बता दें कि बुडोकन...

Advertisement