Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

राज्य

सत्येंद्र जैन की याचिका हाई कोर्ट ने की खारिज, इस मामले में हो रही थी सुनवाई

Satyendar Jain
Satyendar Jain (File Photo)

दिल्ली हाईकोर्ट (High Court) ने शहर के मंत्री सत्येंद्र जैन की उस याचिका को शनिवार को खारिज कर दिया, जिसमें उन्होंने उनके खिलाफ धन शोधन के मामले को एक अन्य कोर्ट (Court) में स्थानांतरित करने के निचली कोर्ट (Court) के आदेश को चुनौती दी थी. न्यायमूर्ति योगेश ने कहा कि प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने मामले को स्थानांतरित करते हुए सभी तथ्यों पर गौर किया और फैसले में हस्तक्षेप करने की कोई आवश्यकता नहीं हैं. धन शोधन के इस मामले की जांच प्रवर्तन निदेशालय (ED) कर रहा है. उन्होंने कहा कि कुछ परिस्थितियों को देखते हुए ईडी को आशंका थी कि शायद न्याय न हो और उसका मानना है कि ऐसी आशंका को पक्षकार के नजरिए से देखना चाहिए.

खबर में खास

  • ‘याचिका खारिज की जाती है’
  • जमानत याचिका पर हो रही थी सुनवाई
  • ‘डरा-धमका कर अपना काम कराने नहीं देंगे’

‘याचिका खारिज की जाती है’

कोर्ट (Court) ने कहा, ‘यहां सवाल किसी न्यायधीश की ईमानदारी का नहीं बल्कि एक पक्ष के मन में आशंका का है.’कोर्ट (Court) ने यह भी कहा कि एजेंसी द्वारा जतायी आशंका में देरी नहीं हुई है और तथ्य यह दिखाते हैं कि विभाग ने ऐसी आशंका को महज अपने मन में नहीं रखा बल्कि इस कोर्ट (Court) का रुख किया है इसलिए इसे अतार्किक नहीं ठहराया जा सकता. कोर्ट (Court) ने अपने आदेश में कहा, ‘अत: याचिका खारिज की जाती है.’

जमानत याचिका पर हो रही थी सुनवाई

जैन ने प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश विनय कुमार गुप्ता के 23 सितंबर के आदेश को चुनौती देते हुए हाईकोर्ट (High Court) का रुख किया था. निचली कोर्ट (Court) ने धन शोधन के मामले को विशेष न्यायाधीश गीतांजलि गोयल से विशेष न्यायाधीश विकास ढुल को स्थानांतरित कर दिया था. विशेष न्यायाधीश गीतांजलि गोयल उनकी जमानत याचिका पर सुनवाई कर रही थीं. जिला न्यायाधीश ने जांच एजेंसी द्वारा इस मामले को स्थानांतरित करने की याचिका पर यह फैसला दिया था.

Advertisement. Scroll to continue reading.

‘डरा-धमका कर अपना काम कराने नहीं देंगे’

जांच एजेंसी ने कुछ मुद्दों को उठाते हुए मामला किसी और न्यायाधीश को भेजने का अनुरोध किया था. आप नेता ने दलील दी कि ईडी को किसी न्यायाधीश को डरा-धमका कर अपना काम कराने नहीं दिया जा सकता.

बता दें कि ईडी ने भ्रष्टाचार रोकथाम अधिनयम के तहत 2017 में आप के नेता के खिलाफ दर्ज केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) की एक प्राथमिकी के आधार पर जैन और अन्य दो लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. जैन पर उनसे संबद्ध चार कंपनियों के जरिए धन शोधन करने का आरोप है.

You May Also Like

क्रिकेट

PAK vs ENG: रावलपिंडी में खेले गए पहले टेस्ट में पाकिस्तान को 74 रनों से हराने के बाद इंग्लैंड ने दूसरे में जीत की...

क्रिकेट

Rahul Dravid on Team India loss: इंडियन क्रिकेट टीम इस समय बांग्लादेश के दौरे पर है और तीन वनडे मैचों की सीरीज के पहले...

राज्य

सपा के लिए मैनपुरी सीट जीतना काफी अहम माना जा रहा है. इसलिए चुनाव से पहले अखिलेश ने चाचा के साथ अपनी पुरानी अदावत...

राज्य

भाजपा ने सपा की परपंरागत सीट रही रामपुर में जीत दर्ज करके आजम खान को बड़ा झटका दे दिया है. रामपुर में बीजेपी की...

Advertisement