Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

राज्य

क्या NDA का मतलब केवल BJP है, 2 साल में तीसरा नुकसान, शिवसेना-अकाली के बाद JDU ने तोड़ा रिश्ता

NDA
NDA

नई दिल्लीः बिहार में नीतीश कुमार के BJP से रोशते तोड़ते ही NDA का कुनबा कमजोर हो गया है. आपको बता दें कि नीतीश कुमार ने बिहार में BJP से साथ छोड़विपक्ष के समर्थन से सरकार बनाने का दावा किया है. इससे पहले JDU के सभी नेताओं की बैठक हुई जिसमें नीतीश ने पार्टी ने सभी नेताओं से कहा कि अब उनका NDA से कोई रिश्ता नहीं है. ऐसे में ये संकेत 2024 के हिसाब से BJP के लिए अच्छे नहीं हैं. जिस तरह से BJP के सहयोगी NDA का साथ छोड़ रहे हैं ये BJP को ज़रूर कमजोर कर सकता है. अब सवाल खड़ा हो रहा है कि एनडीए (NDA) के घटक दल गठबंधन से अलग क्यों होते जा रहे हैं.

खबर में खास

  • BJP से इन पार्टियों ने तोड़ारिश्ता
  • इन्होंने NDA का साथ छोड़ दिया
  • 2024 में हो सकता है नुक़सान
BJP से इन पार्टियों ने तोड़ारिश्ता

मालूम हो कि किसान आंदोलन के दौरान BJP की सबसे पुरानी सहयोगी पंजाब की अकाली दल ने BJP का साथ छोड़ दिया था. इसके अलावा शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने BJP से रिश्ता तोड़कर एनसीपी और कांग्रेस के साथ दोस्ती की ऐतिहासिक कहानी लिखी. हालांकि ये दोस्ती तोड़ना शिवसेना के लिए बेहद ग़लत कदम साबित हुआ. शिंदे ने शिवसेना को ही BJP के साथ आकर तोड़ दिया.

इन्होंने NDA का साथ छोड़ दिया

बता दें कि 2014 में तमिलनाडु की MDMK ने भी NDA का साथ छोड़ दिया था. 2016 में ही केरल की रेवॉल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी ने NDA का साथ छोड़ दिया था. 2017 में महाराष्ट्र की सहयोगी पार्टी ‘स्वाभिमान पक्ष’ और 2018 में बिहार की सहयोगी दल हिंदुस्तान अवाम मोर्चा ने खुद को BJP से अलग कर लिया था. 2017 में आप राजभर भाजपा के साथ चुनाव लड़े लेकिन उसके बाद उन्होंने योगी जा साथ छोड़ दिया.

2024 में हो सकता है नुक़सान

बता दें कि NDA छोड़ रहे सहयोगी एक सवाल खड़ा कर रहे हैं कि क्या NDA केवल BJP है. सवाल ये भी है कि क्या BJP अपने सहयोगीयों के साथ गठबंधन धर्म नहीं निभा रही है. जानकरों का कहना है कि अब BJP अटल और आडवाणी वाली नहीं मोदी और शाह वाली नई BJP हो गई है. 2024 में लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) होने हैं. ऐसे में एनडीए के कमजोर होने से सियासी नुकसान भी संभव है.

ये भी पढ़ेंः- कभी लालू यादव ने नीतीश कुमार को बताया था सांप, आज उसी पार्टी से समर्थन के लिए भुला दी पुरानी कड़वाहट

Advertisement. Scroll to continue reading.

You May Also Like

राज्य

नई दिल्ली. राजस्थान में सियासी संकट (Rajasthan Congress Crisis) ने कांग्रेस के सामने नई मुसीबत खड़ी कर दी है. राजस्थान कांग्रेस के संकट ने...

टेक-ऑटो

नई दिल्ली : OnePlus कंपनी जल्द भारतीय मार्केट में अपना नया बजट सेगमेंट स्मार्टवॉच लॉन्च करने वाली है. कंपनी इस स्मार्टवॉच को अपनी बहुप्रतिष्ठित...

देश

भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) के माध्यम से राहुल गांधी कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश कर रहे हैं. दक्षिण भारत...

विदेश

नई दिल्लीः PM Modi आज जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के राजकीय अंतिम संस्कार में शामिल होने पहुंचे हैं. बता दें कि बुडोकन...

Advertisement