Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

राज्य

हार्दिक पटेल का सोनिया गांधी को पत्र बन सकता कांग्रेस के लिए मुसीबत, राहुल गांधी को लिया निशाने पर

Hardik Patel resignation sent by writing a letter to Sonia Gandhi
Hardik Patel resignation sent by writing a letter to Sonia Gandhi

नई दिल्लीः कुछ समय बाद गुजरात (Gujarat) में विधानसभा चुनाव होने पहले ही कांग्रेस पार्टी को बड़ा झटका लगा है. गुजरात में पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल (Hardik Patel) ने सोनिया गांधी पत्र लिखकर इस्तीफा दे दिया है. कांग्रेस पार्टी (Congress) के लिए ये सबसे बुरा समय चल रहा है पार्टी से एक के बाद एक नेता इस्तीफा दे रहे हैं. हार्दिक पटेल ने जो पत्र लिखा है वो पार्टी के लिए काफी बड़ी समस्या है.

खबर में खास

  • राहुल गांधी पर निशाना साधा
  • गुजरात के लोगों से उन्हें नफरत
  • पार्टी और पद से इस्तीफा देता हूं
राहुल गांधी पर निशाना साधा

हार्दिक पटेल ने राहुल गांधी का नाम लिए बगैर उनपर निशाना साधा है. हार्दिक पटेल ने कहा, जब देश संकट में था, कांग्रेस को नेतृत्व की जरूरत थी, तब हमारे नेता विदेश में थे. हार्दिक ने आगे कहा, ‘अयोध्या में प्रभु राम का मंदिर हो, नागरिकता कानून-एनआरसी का मुद्दा हो, जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाना हो या GST लागू करने का फैसला, देश लंबे समय से इनका समाधान चाहता था, लेकिन कांग्रेस पार्टी इसमें सिर्फ बाधा बनने का काम करती रही.’

गुजरात के लोगों से उन्हें नफरत

हार्दिक पटेल ने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व में किसी मुद्दे के प्रति गंभीरता की कमी एक बड़ा मुद्दा है. मैं जब भी पार्टी के नेतृत्व से मिला तो लगा कि उनका ध्यान गुजरात की जनता की समस्याओं से सुनने से ज्यादा अपने मोबाइल और बाकी चीजों पर रहा. जब भी देश संकट में था, अथवा कांग्रेस को नेतृत्व की जरूरत थी, तो हमारे नेता विदेश में थे. शीर्ष नेतृत्व का बर्ताव जनता के प्रति ऐसा है कि गुजरात और गुजरात के लोगों से उन्हें नफरत हो.’

पार्टी और पद से इस्तीफा देता हूं

हार्दिक पटेल ने कहा, ‘मुझे दुख के साथ कहना पड़ता है आज गुजरात में हर कोई जानता है कि किस प्रकार कांग्रेस के बड़े नेता नेताओं ने जानबूझकर गुजरात की जनता के मुद्दों को कमजोर किया. इसके बाद आर्थिक फायदे उठाए. उन्होंने कहा, मुझे अफसोस है कि कांग्रेस पार्टी गुजरात के लिए कुछ नहीं करना चाहती. इसलिए जब मैं गुजरात के लिए कुछ करना चाहता हूं, तो मेरा तिरस्कार होता रहा. उन्होंने कहा, आज मैं बड़ी हिम्मत से पार्टी और पद से इस्तीफा देता हूं. मुझे विश्वास है कि इस निर्णय का स्वागत मेरा हर साथी और गुजरात की जनता करेगी.,

Advertisement. Scroll to continue reading.

You May Also Like

क्रिकेट

BCCI Surprising everyone: इंडियन क्रिकेट (Indian Cricket) में आजकल सरप्राइज देने का दौर चल रहा है. ये बात हम यूं ही नहीं कह रहे...

देश

अगस्त में नए उपराष्ट्रपति भी मिल जाएंगे. चुनाव को लेकर सत्तापक्ष और विपक्ष में प्रत्याशी को लेकर भारी मंथन जारी है. जल्द ही दोनों...

क्रिकेट

Virat Kohli- Bad Luck!: ”इसी होनी को तो क़िस्मत का लिखा कहते हैं जीतने का जहां मौका था वहीं मात हुई”. इंग्लैंड और भारत...

क्रिकेट

नई दिल्ली: इंग्लैंड टेस्ट टीम की किस्मत अचानक बदल गई है. इंग्लैंड ने पिछले 4 टेस्ट मैचों में धमाकेदार जीत दर्ज की है वो...

Advertisement