Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

राज्य

शिंदे vs ठाकरे: विश्वासमत से पहले एकनाथ की अग्निपरीक्षा, स्पीकर के चुनाव में महाराष्ट्र में घमासान

शिंदे का गुट का कहना है कि ज्यादातर विधायक हमारे साथ हैं, हम ही असली शिवसेना हैं. इसलिए व्हिप जारी करने का अधिकार 16 विधायकों वाली शिवसेना को नहीं, बल्कि 39 विधायकों वाले शिंदे को गुट का है.

Maharashtra Political Crisis
शिंदे के पास सत्ता के बाद शिवसेना की होगी कमान?

नई दिल्ली. महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे के सामने कुर्सी मिलने के बाद पहला सेमीफाइनल है. रविवार को महाराष्ट्र विधानसभा स्पीकर का चुनाव होना है. इसके लिए दोनों खेमे तैयारियां हो गई है. शिंदे गुट के विधायक गोवा से मुंबई पहुंच चुके हैं. स्पीकर के लिए होने वाले चुनाव में MVA की ओर से राजन साल्वी और बीजेपी विधायक राहुल नार्वेकर के बीच मुकाबला होना है. स्पीकर का चुनाव शिंदे के इसलिए काफी अहम है क्योंकि 4 जुलाई को सदन में एकनाथ शिंदे को शक्ति परीक्षण से गुजरना होगा.

इस खबर में ये है खास-

  • शिंदे गुट खुद को बता रहा असली शिवसेना
  • सुनील प्रभु की व्हिप को शिंदे का मानने से इनकार
  • शिवसेना में लड़ाई पर शरद पवार का बयान

शिंदे गुट खुद को बता रहा असली शिवसेना

राज्य में कई दिनों तक चले सियासी घमासान के बाद अब स्पीकर का चुनाव भी दिलचस्प होने वाला है. उद्धव गुट के शिवसेना सचेतक सुनील प्रभु ने विधायकों को व्हिप जारी किया है. उन्होंने कहा कि शिवसेना के सभी विधायक पूरे चुनाव के दौरान सदन में रहे. दूसरी तरफ एकनाथ शिंदे खुद असली शिवसेना बताने में लगे हैं, जबकि उद्धव ठाकरे ने एकनाथ शिंदे को शिवसेना से बर्खास्त कर दिया है.

एकनाथ शिंदे ने सुनील प्रभु की व्हिप को किया खारिज

शिंदे गुट ने सुनील प्रभु की व्हिप को मानने से इनकार कर दिया है. हमारे पास बहुमत है और हम सभी बीजेपी के राहुल नार्वेकर को समर्थन देंगे. नार्वेकर ही विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव जीतेंगे. शिंदे का गुट का कहना है कि ज्यादातर विधायक हमारे साथ हैं, हम ही असली शिवसेना हैं. इसलिए व्हिप जारी करने का अधिकार 16 विधायकों वाली शिवसेना को नहीं, बल्कि 39 विधायकों वाले शिंदे को गुट का है.

Advertisement. Scroll to continue reading.

शिवसेना में लड़ाई पर शरद पवार का बयान

भरत गोगावले को अपना सचेतक नियुक्त किया है. ऐसे बागी गुट स्पीकर के चुनाव में उद्धव गुट को भाजपा उम्मीदवार के पक्ष में वोट करने के लिए व्हिप जारी कर सकता है. अगर ऐसा होता है, तो फिर से दोनों गुट के बीच सियासी घमासान देखने को मिलेगा. एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने एकनाथ शिंदे के सामने चुनौती पर बयान दिया है. उन्होंने शिवसेवा के किस समूह को विधायक दल माना जायेगा, इसके लिए लंबी कानूनी लड़ाई होगी.

You May Also Like

क्रिकेट

दुनिया भर में टी 20 क्रिकेट लीग का क्रेज बढ़ता जा रहा है. IPL की बड़ी सफलता के बाद क्रिकेट खेलने वाले प्रत्येक देश...

क्रिकेट

ZIM vs BAN: जिंबाब्वे ने तीन मैचों की वनडे सीरीज के दूसरे मैच में बांग्लादेश को 5 विकेट से हरा दिया है. जीत के...

स्पोर्ट्स

CWG 2022: भारतीय महिला हॉकी टीम (Indian women hockey team) ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में अपना सफर ब्रांज मेडल के साथ समाप्त किया है....

क्रिकेट

IND vs WI: वेस्टइंडीज के खिलाफ 5 वें और आखिरी टी 20 मुकाबले में भारतीय टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए श्रेयस...

Advertisement