Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

राज्य

Maharashtra: सबसे ज्यादा कांग्रेस को होगा नुकसान, सियासी संकट के बीच मुंबई पहुंची प्रियंका गांधी

MVA गठबंधन में शामिल NCP और कांग्रेस (Congress) इस सियासी संकट के निपटने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंकने में लगे हैं. वहीं उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के हाव-भाव से लगता है कि उन्होंने हथियार डाल दिए हैं. यदि शिंदे अपने मंसूबों में कामयाब होते हैं, तो उद्धव ठाकरे के बाद यदि किसी को सबसे ज्यादा दर्द होगा तो वो है कांग्रेस पार्टी.

Priyanka Gandhi
सियासी संकट के बीच मुंबई पहुंची प्रियंका गांधी (File Photo: ANI)

महाराष्ट्र (Maharashtra) में शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) की बगावत से महाविकास अघाड़ी (Maha Vikas Aghadi) गठबंधन की सरकार पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं. MVA गठबंधन में शामिल NCP और कांग्रेस (Congress) इस सियासी संकट के निपटने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंकने में लगे हैं. वहीं उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के हाव-भाव से लगता है कि उन्होंने हथियार डाल दिए हैं. यदि शिंदे अपने मंसूबों में कामयाब होते हैं, तो उद्धव ठाकरे के बाद यदि किसी को सबसे ज्यादा दर्द होगा तो वो है कांग्रेस पार्टी. यही कारण है कि अब गांधी परिवार (Gandhi Family) खुद मामले को हैंडल कर रहा है. इस संकट के बीच गांधी परिवार की सदस्य और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) मुंबई पहुंच चुकी हैं.

इस खबर में ये है खास

  • निजी दौरे पर मुंबई पहुंची प्रियंका
  • कमलनाथ को मिली बड़ी जिम्मेदारी
  • कांग्रेस को सबसे ज्यादा नुकसान होगा
  • अंतर्कलह से लुप्त हो रही है कांग्रेस

निजी दौरे पर मुंबई पहुंची प्रियंका

इस सियासी संकट के बीच प्रियंका गांधी मुंबई पहुंच चुकी हैं. जानकारी के मुताबिक प्रियंका गांधी का ये निजी दौरा है. जानकारी के मुताबिक प्रियंका वाड्रा का ये दौरा पहले शेड्यूल था. ये महज इत्तेफाक है कि सरकार इसी समय संकट में आ गई है. वहीं कांग्रेस सूत्रों के अनुसार ऐसे मुश्किल वक्त में प्रियंका अब पार्टी विधायकों से मुलाकात करके वापस दिल्ली जाएंगी. पार्टी का कहना है कि उसके सभी विधायक एकजुट हैं और गठबंधन सरकार के साथ हैं.

कमलनाथ को मिली बड़ी जिम्मेदारी

कांग्रेस पार्टी ने अपने वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को महाराष्ट्र का प्रभारी बनाया है. मजेदार बात ये है कि महाराष्ट्र में जो हालात बने हैं, कमलनाथ उसके भुक्तभोगी हैं. एमपी में कांग्रेस की अच्छी-खासी सरकार चल रही थी, लेकिन ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे के विधायक बेंगलुरू चले गए और वहीं कैंप कर लिया. सरकार चली गई और कमलनाथ को विपक्ष में बैठना पड़ा. अब कांग्रेस ने उन्हीं को महाराष्ट्र में उथल पुथल संभालने का जिम्मा दिया है.

Advertisement. Scroll to continue reading.

कांग्रेस को सबसे ज्यादा नुकसान होगा

जो कांग्रेस पार्टी कभी पूरे देश में एकछत्र राज करती थी, 2014 के बाद से उसी पार्टी का ग्रॉफ लगातार नीचे जा रहा है. 2022 में कांग्रेस के हाथ से पंजाब भी फिसल गया. अब पार्टी की सिर्फ छत्तीसगढ़ और राजस्थान में सरकार बची है. तो वहीं महाराष्ट्र, तमिलनाडु और झारखंड में वो सहयोगी है. यदि महाराष्ट्र में महा विकास अघाड़ी सरकार भी गिर गई तो कांग्रेस के हाथ से एक और राज्य चला जाएगा. 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले ये उसके लिए बड़ा झटका होगा.

अंतर्कलह से लुप्त हो रही है कांग्रेस

कांग्रेस मुक्त भारत की राह में जो 2 राज्य पिलर के रूप में अभी तक खड़े हैं, वे हैं राजस्थान और छत्तीसगढ़. राजस्थान में सीएम अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच की नूराकुश्ती कई बार दिल्ली दरबार तक आ जाती है और पार्टी परेशान हो जाती है. इसी तरह पिछले साल से छत्तीसगढ़ में भी ऐसी ही नूराकुश्ती देखने को मिल रही है. वहां सीएम भूपेश बघेल और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव के बीच कसमकश चल रही है.

Advertisement. Scroll to continue reading.

You May Also Like

देश

नई दिल्ली. अभी तक सीबीएसई (CBSE Result) बोर्ड परीक्षा का परिणाम नहीं हो सका है. लंबे समय से विद्यार्थी रिजल्ट का इंतजार कर रहे...

विदेश

नई दिल्लीः संयुक्त राज्य अमेरिका (America) के शिकागो में इलिनोइस के हाईलैंड पार्क में 4 जुलाई की परेड के दौरान फायरिंग(Firing) की घटना में मौतों का...

क्रिकेट

IND vs ENG Edgbaston 5th Test Day 4 Highlights: जो रूट (नाबाद 76) और जॉनी बेयरस्टो (नाबाद 72) के बीच 150 रन की साझेदारी...

कोरोनावायरस

नई दिल्ली: देश में Corona के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं, नए मामलों का ग्राफ उठता जा रहा है ऐसे में देश के...

Advertisement