Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

राज्य

चिंतन शिविर के दौरान कांग्रेस को लगा तगड़ा झटका, पंजाब के दिग्गज नेता सुनील जाखड़ ने छोड़ी पार्टी

चिंतन शिविर के दौरान ही पार्टी को पंजाब में बड़ा झटका लगा है. पंजाब में कांग्रेस (Punjab Congress) के दिग्गज नेता सुनील जाखड़ पार्टी छोड़ सकते हैं. सुनील जाखड़ (Sunil Jakhar) ने पार्टी छोड़ने की मंशा जाहिर करते हुए अपने ट्विटर अकाउंट से कांग्रेस का परिचय हटा दिया है.

Sunil Jakhar
पंजाब के दिग्गज नेता सुनील जाखड़ ने छोड़ सकते हैं कांग्रेस (File Photo: ANI)

राजस्थान (Rajasthan) के उदयपुर में कांग्रेस पार्टी अपने भविष्य को लेकर चिंतन करने में जुटी है. पार्टी का एक तरफ चिंतन शिविर (Congress Chintan Shivir) चल रहा है, वहीं दूसरी ओर पार्टी अपनी पुरानी समस्या से जूझ रही है. चिंतन शिविर के दौरान ही पार्टी को पंजाब में बड़ा झटका लगा है. पंजाब में कांग्रेस (Punjab Congress) के दिग्गज नेता सुनील जाखड़ ने पार्टी छोड़ दी. सुनील जाखड़ (Sunil Jakhar) ने बकायदा फेसबुक लाइव करके पार्टी छोड़ने का ऐलान किया. इसके बाद उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट से कांग्रेस का परिचय भी हटा दिया है.

इस खबर में ये है खास

  • 'Good Luck and Goodbye Congress'
  • पंजाब को बख्श देने की अपील
  • चिंतन शिविर सिर्फ औपचारिकता
  • चापलूसों से घिरा हुआ गांधी परिवार

‘Good Luck and Goodbye Congress’

पार्टी छोड़ते समय सुनील जाखड़ ने ‘Good Luck and Goodbye Congress’ कहा. इससे पहले उन्होंने अपने ट्विटर बायो से कांग्रेस का परिचय भी हटा दिया. फेसबुक लाइव के दौरान जाखड़ कांग्रेस नेता अंबिका सोनी पर जमकर बरसे. उन्होंने सोनिया गांधी से भी कई सवाल किए. जाखड़ ने आरोप लगाया कि कांग्रेस नेतृत्व चापलूसों से घिरा हुआ है.

पंजाब को बख्श देने की अपील

Advertisement. Scroll to continue reading.

सुनील जाखड़ ने कांग्रेस नेता अंबिका सोनी पर सीधा हमला बोला. उन्होंने कांग्रेस का बेड़ा गर्ग किया. उन्‍होंने आगे कहा क‍ि आज कांग्रेस पार्टी खटिया पर नजर आ रही है. उन्होंने कहा कि हर जगह पंजाब की स्थिती बदतर है. कांग्रेस के कुछ नेताओं को बेनकाब करना जरूरी है. सुनील जाखड़ ने पार्टी छोड़ने के बाद सोनिया गांधी से अपील की कि वह पूरे देश में राजनीति करें लेकिन पंजाब को बख्श दें.

चिंतन शिविर सिर्फ औपचारिकता

जाखड़ ने पार्टी के चिंतन शिविर पर भी सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि पार्टी का चिंतन शिविर सिर्फ औपचारिकता मात्र है. उन्होंने कहा कि मुझे कांग्रेस की हालत पर तरस आ रहा है. ये चिंतन शिविर सिर्फ एक फॉर्मेलिटी है, उससे ज्यादा कुछ नहीं. जाखड़ ने कहा कि वह अपनी विचारधारा पर अडिग हैं. उनका कांग्रेस पार्टी के साथ 50 साल पुराना रिश्ता है. उन्होंने कांग्रेस के अनुशासित कार्यकर्ता के रूप में काम किया है.

चापलूसों से घिरा हुआ गांधी परिवार

जाखड़ ने इस दौरान पार्टी नेतृत्व यानी गांधी परिवार पर भी सवाल उठाए. उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस नेतृत्व चापलूसों से घिरा हुआ है. सिर्फ इसी वजह से कांग्रेस को नुकसान हो रहा है. उन्होंने कहा कि उनके परिवार की 3 पीढ़ियों ने 50 साल तक कांग्रेस की सेवा की. इसके बावजूद पार्टी लाइन पर नहीं चलने के लिए पार्टी के सभी पदों को छीन लिए जाने से मेरा दिल टूट गया था.

Advertisement. Scroll to continue reading.

You May Also Like

क्रिकेट

Indian Cricket Team, Shikhar Dhawan: साउथ अफ्रीका के साथ टी 20 सीरीज के लिए घोषित भारतीय टीम (Indian Cricket Team)में शामिल किए गए अधिकांश...

क्रिकेट

IPL 2022, SRH VS PBKS: 15 वें सीजन के आखिरी लीग मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) ने पंजाब...

क्रिकेट

Indian Cricket Team: साउथ अफ्रीका के खिलाफ होने वाले 5 मैचों की टी 20 सीरीज के लिए 18 सदस्यों वाली भारतीय टीम (Indian Cricket...

राज्य

हादसा सुबह साढ़े 3 बजे जलालगढ़ थाना क्षेत्र की सीमा में काली मंदिर के पास हुआ है. हादसे में 8 लोगों की मौत हो...

Advertisement