Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

राज्य

Bihar: नीतीश सरकार में डिप्टी सीएम बनेंगी लालू की बहू, तेजस्वी सीधे CM की कुर्सी पर बैठेंगे!

सूत्रों के अनुसार तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने अपनी पत्नी राजश्री (Rajshree) को उप-मुख्यमंत्री बनाने का फैसला लिया है. जबकि लालू (Lalu Yadav) के बड़े बेटे तेज प्रताप (Tej Pratap) भी मंत्री बनेंगे. इस तरह से बिहार की राजनीति में लालू परिवार (Lalu Yadav Family) की एक और सदस्य की एंट्री हो सकती है.

Rajshree Yadav
तेजस्वी यादव अपनी मां राबड़ी देवी और पत्नी राजश्री के साथ (File Photo: ANI)

बिहार में जेडीयू-बीजेपी (JDU-BJP) का तलाक हो गया है. नीतीश कुमार ने एक बार फिर से तेजस्वी से हाथ मिलाते हुए NDA को टाटा-बाय-बाय बोल दिया है. आज (बुधवार) दोपहर महागठबंधन सरकार का शपथ ग्रहण होगा और फिर से नीतीश कुमार (Nitish Kumar) मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. नई सरकार में तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) अब बड़ा दांव चलने वाले हैं. सूत्रों के अनुसार तेजस्वी ने अपनी पत्नी राजश्री (Rajshree) को उप-मुख्यमंत्री बनाने का फैसला लिया है. जबकि लालू (Lalu Yadav) के बड़े बेटे तेज प्रताप (Tej Pratap) भी मंत्री बनेंगे. इस तरह से बिहार की राजनीति में लालू परिवार (Lalu Yadav Family) की एक और सदस्य की एंट्री हो सकती है.

इस खबर में ये है खास

  • 8वीं बार सीएम बनेंगे नीतीश कुमार
  • तेजस्वी-नीतीश में क्या डील हुई?
  • बीजेपी को मौका नहीं देना चाहते तेजस्वी
  • गृह मंत्रालय को लेकर पेंच फंसा
  • 2024 से पहले बीजेपी को बड़ा झटका

8वीं बार सीएम बनेंगे नीतीश कुमार

गठबंधन सरकार में नीतीश कुमार आज (बुधवार को) दोपहर 4 बजे तक एक बार फिर से मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. इस तरह से वे 8वीं बार बिहार के मुख्यमंत्री बनेंगे. साल 2000 में नीतीश पहली बार सीएम बने थे. तब जदयू और बीजेपी गठबंधन को 151 सीटें मिली थीं. हालांकि 324 सीटों वाले राज्य में बहुमत के लिए 163 सीटें चाहिए थीं. ऐसे में 7 दिन बाद उन्होंने इस्तीफा दे दिया था. 2015 में वे राजद के समर्थन से मुख्यमंत्री बन चुके हैं हालांकि 2017 में महागठबंधन से अलग होकर बीजेपी के साथ सरकार बना ली थी. अब 5 साल बाद वे फिर से महागठबंधन के साथ मिलकर सरकार बनाने जा रहे हैं.

तेजस्वी-नीतीश में क्या डील हुई?

नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव के बीच खिचड़ी करीब 6 महीने पहले से पक रही थी. दोनों कई मौकों पर एक-दूसरे से मिले. इस दौरान तेजस्वी ने नीतीश कुमार को एक डील ऑफर की. नीतीश भी अपना नफा-नुकसान आंकने के बाद उस पर सहमत हुए हैं. सूत्रों के अनुसार तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को 2024 में पीएम की कुर्सी ऑफर की है. तब तक वो सीएम की कुर्सी पर बैठेंगे. मतलब 2024 में विपक्ष की ओर से नीतीश कुमार चेहरा होंगे. उसके बाद बिहार की बागडोर तेजस्वी संभालेंगे. 2024 में यदि विपक्ष सफल नहीं होता तो नीतीश को फिर सीएम बना दिया जाएगा.

Advertisement. Scroll to continue reading.

JDU-BJP तलाक से राज्यसभा के उप सभापति हरिवंश नारायण सिंह फंसे, क्या सोमनाथ चटर्जी की राह पकड़ेंगे?

बीजेपी को मौका नहीं देना चाहते तेजस्वी

सूत्रों के मुताबिक तेजस्वी इस बार बीजेपी को कोई मौका नहीं देना चाह रहे हैं. इसलिए वह खुद उपमुख्यमंत्री बनने की जगह अपनी पत्नी को सरकार में शामिल करा रहे हैं. सत्ता से बाहर रहकर वे संगठन को मजबूत करेंगे, जबकि सत्ता में उनकी पत्नी नीतीश कुमार पर नजर रखेंगी. इस तरह से वे अपनी पिता लालू यादव की तरह अपनी पत्नी को भी सक्रिय राजनीति में उतारने वाले हैं. यदि ऐसा होता है तो लालू परिवार का एक और शख्स भी सक्रिय राजनीति में आ जाएगा. वहीं बड़े भाई तेज प्रताप को भी सरकार में एडजस्ट कराया जाएगा.

गृह मंत्रालय को लेकर पेंच फंसा

शुरुआत में कहा जा रहा था कि सिर्फ मुख्यमंत्री और उप-मुख्यमंत्री ही शपथ लेंगे. अब बताया जा रहा है कि दोनों के साथ 3 से 5 मंत्री भी शपथ ले सकते हैं. जदयू और आरजेडी के अलावा कांग्रेस को भी मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है. सूत्रों के अनुसार गृह मंत्रालय को लेकर पेंच फंस रहा है. तेजस्वी यादव चाहते हैं कि गृह मंत्रालय आरजेडी के हिस्से में आए, जबकि नीतीश कुमार गृह मंत्रालय को अपने ही हाथों में रखने पर अड़े हैं. नीतीश के आगे तेजस्वी को ही झुकना पड़ेगा.

Advertisement. Scroll to continue reading.

Bihar Political Crisis: BJP को नितीश के फैसले की थी पहले से भनक, डैमेज कंट्रोल की नहीं की गई कोई कोशिश

2024 से पहले बीजेपी को बड़ा झटका

2024 के लिए बीजेपी अभी से कमर कस चुकी है. भगवा पार्टी ने एक बार फिर से पीएम मोदी के नेतृत्व में मैदान में उतरने का फैसला किया है. इतिहास साक्षी है कि जिसने यूपी-बिहार को जीत लिया, वही दिल्ली की गद्दी पर बैठता है. बिहार में जेडीयू के साथ बीजेपी लोकसभा की सभी 40 सीटें जीतने की रणनीति पर काम कर रही थी. भगवा पार्टी को अब इस प्लान को पूरा करने में कठिनाइयां आ सकती हैं. नीतीश कुमार के जाने से पार्टी को नए सिरे से रणनीति तैयार करनी होगी.

You May Also Like

बॉलीवुड

मॉडल ने पंखे से लटक कर अपनी जान दे दी. मौके से एक सुसाइड नोट मिला है. सुसाइड नोट में लिखा है, मौत के...

बॉलीवुड

मुंबई के अंधेरी इलाके में 30 साल की मॉडल आकांक्षा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. आत्महत्या से पहले आकांक्षा ने सुसाइट नोट में...

देश

नई दिल्लीः भारत में आज शुक्रवार को कोरोना के मामलों में गिरावट देखने को मिली है. पिछले 24 घंटे में कोविड-19 (India Coronavirus Case) के...

बॉलीवुड

खबरों की मानें त ऋचा के हाथ में सजी मेहंदी राजस्थान से आई है. इसके साथ ही मेहंदी सेरेमनी के लिए 5 ऑर्टिस्ट्स को...

Advertisement