Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

विदेश

Accidental Missile Case: भारत और पाकिस्तान के मामले में चीन ने अड़ाई टांग

भारत की तरफ से पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र में दुर्घटनावश मिसाइल छोड़े जाने वाले मामले में अब पाकिस्तान का नया हितैषी चीन भी कूद पड़ा है.

Intercontinental ballistic missile
Intercontinental ballistic missile

नई दिल्ली : भारत की तरफ से पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र में दुर्घटनावश मिसाइल छोड़े जाने वाले मामले में अब पाकिस्तान का नया हितैषी चीन भी कूद पड़ा है. चीन ने सोमवार को कहा कि भारत और पाकिस्तान को जल्द से जल्द बातचीत करनी चाहिए और दुर्घटनावश पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र में गिरे मामले की गंभीरता से गहन जांच प्रक्रिया शुरु करनी चाहिए.

खबर में खास

  • चीन के विदेश मंत्रालय का बयान
  • कब हुई थी घटना
  • भारत सरकार ने रखा अपना पक्ष
  • पाकिस्तान संतुष्ट नहीं

चीन के विदेश मंत्रालय का बयान
चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन ने एक पत्रकार वार्ता के दौरान कहा कि पाकिस्तान और भारत दोनों दक्षिण एशिया में प्रमुख देश हैं और क्षेत्रीय सुरक्षा और स्थिरता को बनाए रखने की जिम्मेदारी को साझा करते हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि हमने घटना पर जानकारी ली है.हम संबंधित देशों से जल्द से जल्द बातचीत और संवाद करने और इस घटना की गहन जांच शुरू करने, सूचना साझा करने को मजबूत करने और ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो इसे सुनिश्चित करने और गलत अनुमान को रोकने के लिए एक अधिसूचना तंत्र स्थापित करने का आह्वान करते हैं.

कब हुई थी घटना ?
भारत के रक्षा मंत्रालय के अनुसार 9 मार्च को पाकिस्तान के इलाके का 124 किलोमिटर अंदर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में गिरी एक मिसाइल गिरी थी. इस घटना के बाद पाकिस्तान ने भारतीय राजदूत को तलब कर कड़ा विरोध जताया था और जाँच की मांग की थी.

भारत सरकार ने रखा अपना पक्ष

भारत सरकार ने इस मामले पर अपना पक्ष रखते हुए कहा है कि तकनीकी खराबी के कारण एक मिसाइल चल गई थी जो पाकिस्तान में जा गिरी थी. भारत सरकार ने
इस घटना को खेदजनक बताया था. भारत के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि सरकार ने इस घटना को गंभीरता से लिया है और इसमें एक ‘कोर्ट ऑफ इंक्वायरी’ का आदेश
दिया है. हालांकि भारत ने मिसाइल का नाम नहीं बताया था.

Advertisement. Scroll to continue reading.

पाकिस्तान संतुष्ट नहीं

मिसाइल गिरने की घटना पर भारत के स्पष्टीकरण से पाकिस्तान संतुष्ट नहीं है. पाकिस्तान ने भारत से आकस्मिक मिसाइल प्रक्षेपण और इस घटना की विशेष
परिस्थितियों को रोकने के लिए उपायों और प्रक्रियाओं की व्याख्या मांगी है. पाक ने कहा कि भारत को पाकिस्तानी क्षेत्र में गिरी मिसाइल के प्रकार और विनिर्देशों
को स्पष्ट रूप से बताना चाहिए.

You May Also Like

राज्य

नई दिल्ली. राजस्थान में सियासी संकट (Rajasthan Congress Crisis) ने कांग्रेस के सामने नई मुसीबत खड़ी कर दी है. राजस्थान कांग्रेस के संकट ने...

टेक-ऑटो

नई दिल्ली : OnePlus कंपनी जल्द भारतीय मार्केट में अपना नया बजट सेगमेंट स्मार्टवॉच लॉन्च करने वाली है. कंपनी इस स्मार्टवॉच को अपनी बहुप्रतिष्ठित...

देश

भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) के माध्यम से राहुल गांधी कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश कर रहे हैं. दक्षिण भारत...

विदेश

नई दिल्लीः PM Modi आज जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के राजकीय अंतिम संस्कार में शामिल होने पहुंचे हैं. बता दें कि बुडोकन...

Advertisement