Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

विदेश

यूरोप में बाइडन का अभियान: रूस पर सख्त प्रतिबंध लगाए, वे क्या करने को तैयार है या नहीं?

वाशिंगटन: राष्ट्रपति जो बाइडन यूक्रेन पर आक्रमण के लिए रूस को दंडित करने के लिए निर्मित वैश्विक गठबंधन को बनाए रखने के लिए तैयार हैं. इस सिलसिले में वह यूरोप की पांच दिवसीय यात्रा पर जा रहे हैं, क्योंकि चार महीने पुराने रूस-यूक्रेन युद्ध के समाप्त होने के कोई संकेत नहीं हैं, जबकि इससे वैश्विक खाद्य व्यवस्था और ऊर्जा आपूर्ति की समस्या गंभीर होती जा रही है. बाइडन पहले जर्मनी के बवेरियन आल्प्स में सात प्रमुख आर्थिक शक्तियों के समूह की बैठक में शामिल होंगे और बाद में 30 नाटो देशों के नेताओं के साथ एक शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए मैड्रिड रवाना होंगे.

खबर में खास

  • मास्को की घुसपैठ
  • क्या करने को तैयार है या नहीं?
  • रूस पर सख्त प्रतिबंध लगाए

मास्को की घुसपैठ

उनकी यह यात्रा यूक्रेन को मजबूत करने और रूस को उसकी आक्रामकता के लिए दंडित करने के लिए वैश्विक गठबंधन के रूप में हो रही है. इस संघर्ष के कारण खाद्य और ऊर्जा की कीमतें आसमान छू रही हैं. इसके पहले रूस के हमला शुरू करने के कुछ ही हफ्तों बाद मार्च में बाइडन की यूरोप यात्रा के बाद से यूक्रेन युद्ध अधिक महत्वपूर्ण चरण में प्रवेश कर गया. उस समय वह ब्रसेल्स में सहयोगियों से मिले, क्योंकि यूक्रेन में नियमित बमबारी हो रही थी. उन्होंने पोलैंड में पूर्वी यूरोप के भागीदारों को आश्वस्त करने की कोशिश की कि उन्हें मास्को की घुसपैठ का सामना नहीं करना पड़ेगा.

क्या करने को तैयार है या नहीं?

अमेरिका के सहयोगियों में इस बात पर मतभेद है कि उनका लक्ष्य केवल शांति बहाल करना है या रूस को संघर्ष की पुनरावृत्ति को रोकने के लिए एक गहरी कीमत चुकाने के लिए मजबूर करना है. व्हाइट हाउस राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा, हर देश अपने लिए बोलता है, हर देश को चिंता होती है कि वे क्या करने को तैयार है या नहीं है. लेकिन जहां तक ​​गठबंधन की बात है, यह वास्तव में पहले कभी इतना अधिक मजबूत और व्यवहार्य नहीं रहा, जितना की आज है.

Advertisement. Scroll to continue reading.

रूस पर सख्त प्रतिबंध लगाए

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की वीडियो के जरिये दोनों शिखर सम्मेलनों को संबोधित करने के लिए तैयार हैं. अमेरिका और सहयोगियों ने उनके देश को अरबों डॉलर की सैन्य सहायता भेजी है और आक्रमण को लेकर रूस पर सख्त प्रतिबंध लगाए हैं.

सोर्स: BHASHA

You May Also Like

राज्य

नई सरकार में तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) उप-मुख्यमंत्री बने. शपथ ग्रहण के बाद तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार के पैर भी छुए. शपथ ग्रहण...

राज्य

नई दिल्लीः बिहार में अचानक हुए सियासी ड्रामे का अंत कुछ ऐसा हुआ कि BJP की सरकार गिर गई और RJD सत्ता में वापस...

टेक-ऑटो

amsung कंपनी आज अपना सबसे बड़ा इवेंट Galaxy Unpacked आयोजित करने जा रही है. कंपनी इस इवेंट की शुरुआत शाम 6:30 बजे करेगी. कंपनी...

टेक-ऑटो

नई दिल्ली : Tecno कंपनी ने अपना नया स्मार्टफोन Tecno Camon 19 Pro 5G को लॉन्च कर दिया है. कंपनी ने इस स्मार्टफोन को...

Advertisement