Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

विदेश

G-20 के राजनयिक Russia-Ukraine युद्ध के वैश्विक प्रभावों से निपटने के लिए कर रहे हैं मशक्कत

G20 Summit
G20 Summit (PTI)

नई दिल्ली: विश्व के अमीर एवं बड़े विकासशील देशों के शीर्ष राजनयिकों को Russia-Ukraine युद्ध को लेकर एक साझा आधार पाने और इसके वैश्विक प्रभावों से निपटने के तरीके ढूंढने में शुक्रवार को मशक्कत करनी पड़ी. इंडोनेशिया के बाली में हो रही बैठक में जी-20 देशों के विदेश मंत्रियों ने अपने इंडोनेशियाई मेजबान से एकजुट होने और युद्ध समाप्त करने की एक भावुक अपील सुनी. चीन और रूस के एक ओर रहने तथा अमेरिका और यूरोप के दूसरी ओर रहने के चलते पूर्व-पश्चिम के बीच दूरियां बढ़ने के मद्देनजर आम सहमति तक पहुंचना अभी बाकी है.

खबर में खास
  • इस्तीफे के बाद हुई बैठक
  • जी-20 का एक लक्ष्य
  • ईंधन और अनाज की हो रही कमी
  • जानें किन मंत्रियों ने साधी चुप्पी
  • जी-20 समूह ने जारी किया बयान
इस्तीफे के बाद हुई बैठक

(Russia-Ukraine) यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के बाद से पहली बार अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन और रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव तथा कई अन्य नेता एक मंच पर आए हैं. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के बृहस्पतिवार को अपने इस्तीफे की घोषणा करने के कुछ ही घंटों बाद यह बैठक शुरू हुई. हालांकि, उनके इस्तीफे की घोषणा के बाद ब्रिटेन की विदेश मंत्री लिज ट्रस को यहां से जाना पड़ गया. वहीं, बैठक जारी रहने के बीच जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को गोली मार दी गई. आबे और जॉनसन जी-20 की बैठकों में शामिल हुआ करते थे. उन्होंने अतीत में इस तरह के कई सम्मेलनों और शिखर बैठकों में हिस्सा लिया था.

जी-20 का एक लक्ष्य

शुक्रवार की बैठक का एक लक्ष्य आगामी जी-20 शिखर सम्मेलन के लिए बुनियाद तैयार करना है जिसकी मेजबानी नवंबर में इंडोनेशिया करेगा. बैठक में शामिल हो रहे कई नेताओं ने आबे की गोली मार कर हत्या किए जाने की घटना पर दुख जताया है. यह घटना उस वक्त हुई जब वे बहुपक्षवाद बहाल करने और वैश्विक नियम आधारित व्यवस्था के महत्व पर प्रथम दो पूर्ण सत्र का आयोजन कर रहे हैं. इंडोनेशिया की विदेश मंत्री रेंटो मारसुदी ने जी-20 विदेश मंत्रियों के समूह से धरती की खातिर वह अविश्वास खत्म करने की अपील की, जो कोरोना वायरस से लेकर जलवायु परिवर्तन तक और यूक्रेन संकट जैसी चुनौतियों की वजह से उत्पन्न हुआ है.

ईंधन और अनाज की हो रही कमी

इस समूह में लावरोव, चीनी विदेश मंत्री वांग यी, अमेरिकी विदेश मंत्री ब्लिंकन और उनके कई अन्य यूरोपीय समकक्ष शामिल हैं. मारसुदी ने कहा, ‘‘विश्व का महामारी से उबरना अभी बाकी है लेकिन हम एक अन्य संकट का सामना कर रहे हैं :यूक्रेन में युद्ध. इसके प्रभाव खाद्य सामग्री और ऊर्जा पर विश्व भर में महसूस किये जा रहे हैं.’’ उन्होंने इस बात का जिक्र किया कि गरीब और विकासशील देश अब ईंधन एवं अनाज की कमी का सामना कर रहे हैं तथा यह स्थिति यूक्रेन में युद्ध के चलते पैदा हुई है. उन्होंने कहा कि जी-20 की यह जिम्मेदारी है कि वह इसका हल करने के लिए कदम उठाये ताकि नियम आधारित विश्व व्यवस्था प्रासंगिक बनी रह सके. उन्होंने कहा कि यूक्रेन में युद्ध ने विश्व व्यवस्था को हिला कर रख दिया है.

जानें किन मंत्रियों ने साधी चुप्पी

वहीं, लावरोव सउदी अरब और मेक्सिको के विदेश मंत्रियों के बीच अपनी सीट पर बैठे और चेहरे पर कोई भाव प्रकट किये बगैर पन्ने पलटते नजर आए. मारसुदी ने कहा, ‘‘हम इस बात से इनकार नहीं कर सकते कि एकसाथ बैठना दुनिया के लिए मुश्किल हो गया है. ’’ इस बीच, बैठक के उद्घाटन के लिए एक गोलमेज के चारों ओर बैठे नेताओं में शामिल लावरोव और ब्लिंकन ने एक दूसरे से बात करने में कोई रूचि नहीं दिखाई और दोनों की मुलाकात करने की कोई योजना नहीं है. ब्लिंकन ने मारसुदी के भाषण की सराहना की.

जी-20 समूह ने जारी किया बयान

उन्होंने मारसुदी से कहा, ‘‘हम कोविड के प्रभाव अब भी विश्व पर मंडराते हुए देख रहे हैं, दुर्भाग्य से हम यूक्रेन के खिलाफ रूस के आक्रमण के प्रभावों को भी देख रहे हैं जिससे पहले की तुलना में चीजें अधिक मुश्किल हो गई हैं. अमेरिकी अधिकारियों ने कहा है कि वे बाली वार्ता के मुख्य मुद्दे से ध्यान भटकने नहीं देंगे. उन्होंने कहा कि इस वार्ता का एजेंडा यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के कारण दुनिया के सामने पैदा हुए खाद्य एवं ऊर्जा संकट पर बात करना, इसके लिए रूस को जिम्मेदार ठहराना और भविष्य में ऐसी किल्लत से मिलकर निपटने के मुद्दे पर बात करना है. जी-20 समूह की तरफ से जारी एक संयुक्त बयान में आतंकवाद, अपराध, जलवायु और आर्थिक मुद्दों पर जोर दिया गया है.

Advertisement. Scroll to continue reading.

You May Also Like

राज्य

नई दिल्ली. राजस्थान में सियासी संकट (Rajasthan Congress Crisis) ने कांग्रेस के सामने नई मुसीबत खड़ी कर दी है. राजस्थान कांग्रेस के संकट ने...

टेक-ऑटो

नई दिल्ली : OnePlus कंपनी जल्द भारतीय मार्केट में अपना नया बजट सेगमेंट स्मार्टवॉच लॉन्च करने वाली है. कंपनी इस स्मार्टवॉच को अपनी बहुप्रतिष्ठित...

देश

भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) के माध्यम से राहुल गांधी कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश कर रहे हैं. दक्षिण भारत...

विदेश

नई दिल्लीः PM Modi आज जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के राजकीय अंतिम संस्कार में शामिल होने पहुंचे हैं. बता दें कि बुडोकन...

Advertisement