Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

विदेश

ईरान राष्ट्रपति का परमाणु वार्ता को लेकर बयान, हम तैयार हैं लेकिन क्या अमेरिका वादे पर खरा उतरेगा

Ebrahim Raisi
ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम राइसी: ANI

नई दिल्ली: ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी (Iranian President) ने बुधवार को कहा कि उनका देश उसे परमाणु बम हासिल करने से रोकने के लिए किए समझौते पर बातचीत फिर से शुरू करने के लिए गंभीर है. लेकिन उन्होंने सवाल किया कि क्या तेहरान किसी भी अंतिम समझौते को लेकर अमेरिकी प्रतिबद्धता पर भरोसा कर सकता है? राष्ट्रपति रईसी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा(UNSC) में 2018 में समझौते से अलग होने के अमेरिका के फैसले का जिक्र करते हुए कहा कि अमेरिका पहले ही पिछले समझौते को ‘‘कुचल’’ चुका है.

खबर में खास
  • परमाणु वार्ता को लेकर ईरान गंभीर
  • बाइडन ने क्या कहा
  • रईसी ने की पश्चिमी देशों की निंदा
परमाणु वार्ता को लेकर ईरान गंभीर

उन्होंने कहा, ‘‘ईरान परमाणु वार्ता में सभी मुद्दों को हल करने को लेकर गंभीर है लेकिन हमारी केवल एक ही इच्छा है : प्रतिबद्धताओं का पालन.’’ उन्होंने कहा, ‘‘क्या हम बिना किसी गारंटी और आश्वासन के पूरी तरह यह भरोसा कर सकते हैं कि इस बार वे अपनी प्रतिबद्धताओं पर खरे उतरेंगे?’’ रईसी ने इजराइल के संदर्भ में कहा कि ईरान की परमाणु गतिविधियों की एकतरफा जांच की गयी जबकि अन्य देशों का परमाणु कार्यक्रम अब भी गुप्त है. गौरतलब है कि इजराइल ने परमाणु हथियार रखने की न कभी पुष्टि की और न ही इससे इनकार किया है.

बाइडन ने क्या कहा

परमाणु समझौते का विरोध करने वाला इजराइल संयुक्त राष्ट्र के निरीक्षकों के समक्ष ईरान पर अपने परमाणु कार्यक्रम को छिपाने का आरोप लगाता रहा है. अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने भी संयुक्त राष्ट्र में अपने भाषण में कहा, ‘‘हम ईरान को कोई परमाणु हथियार हासिल नहीं करने देंगे.’’ साथ ही उन्होंने कहा कि अगर ईरान अपनी प्रतिबद्धताओं को पूरा करता है तो अमेरिका फिर से इस समझौते का हिस्सा बनने के लिए तैयार है.

रईसी ने की पश्चिमी देशों की निंदा

रईसी ने मानवाधिकारों पर ‘‘दोहरे मानदंड’’ अपनाने के लिए पश्चिम देशों की निंदा भी की. उन्होंने इजराइल पर फलस्तीन गाजा पट्टी की नाकाबंदी के जरिए दुनिया की सबसे बड़ी जेल बनाने का आरोप लगाया. रईसी ने संयुक्त राष्ट्र में ऐसे वक्त में भाषण दिया है जब ईरान नाजुक दौर से गुजर रहा है. पश्चिम के प्रतिबंधों ने देश की वित्तीय हालत खराब कर दी है. देश में अर्थव्यवस्था के विरोध में प्रदर्शन तेज हो गए हैं.

You May Also Like

बॉलीवुड

मॉडल ने पंखे से लटक कर अपनी जान दे दी. मौके से एक सुसाइड नोट मिला है. सुसाइड नोट में लिखा है, मौत के...

बॉलीवुड

मुंबई के अंधेरी इलाके में 30 साल की मॉडल आकांक्षा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. आत्महत्या से पहले आकांक्षा ने सुसाइट नोट में...

देश

नई दिल्लीः भारत में आज शुक्रवार को कोरोना के मामलों में गिरावट देखने को मिली है. पिछले 24 घंटे में कोविड-19 (India Coronavirus Case) के...

बॉलीवुड

खबरों की मानें त ऋचा के हाथ में सजी मेहंदी राजस्थान से आई है. इसके साथ ही मेहंदी सेरेमनी के लिए 5 ऑर्टिस्ट्स को...

Advertisement