Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

विदेश

पाकिस्तान को जल्द मिल जाएगा नया आर्मी चीफ, 29 नवंबर को रिटायर हो रहे जनरल बाजवा

General Qamar Javed Bajwa
29 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं जनरल बाजवा (File Photo)

दुनिया के तमाम मुल्कों में कब आर्मी चीफ बदल जाता है किसी को पता ही नहीं चलता, लेकिन पाकिस्तान आर्मी चीफ से जुड़ी खबरें अखबारों की सुर्खियां बन जाती हैं. इसका सबसे बड़ा कारण है कि वहां का आर्मी चीफ सरकार से ज्यादा पॉवर रखता है. आर्मी चीफ सरकार के किसी भी निर्णय को बदलने की झमता रखता है. इतना ही नहीं वो सरकार को भी बर्खास्त रखने की ताकत रखता है, तभी तो पाकिस्तान के 75 साल के इतिहास में 36 साल सैन्य शासन रहा.

29 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं जनरल बाजवा

पाकिस्तान को जल्द ही नया आर्मी चीफ मिलने वाला है. जनरल कमर जावेद बाजवा इसी महीने 29 नवंबर को रिटायर होने वाले हैं, इसलिए नए आर्मी चीफ के लिए मंथन शुरू हो चुका है. जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक गृहमंत्री ने कहा कि नए आर्मी चीफ की नियुक्ति में कोई देरी नहीं की जाएगी. सारी प्रक्रियाएं पूरी हो चुकी हैं. अगले एक या दो दिन में प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ की ओर से बाजवा के उत्तराधिकारी की घोषणा कर दी जाएगी.

कागजी कार्रवाई को दिया जा रहा अंतिम रूप

पाकिस्तान के गृहमंत्री राणा सनाउल्लाह की ओर से भी जल्द ही नए आर्मी चीफ का एलान करने की बात कही गई है. उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ की ओर से एक या दो दिन में नए सेना प्रमुख के नाम पर आधिकारिक मुहर लग जाएगी. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने नए आर्मी चीफ की नियुक्ति के लिए सारी प्रक्रिया को पूरा कर लिया है और अगले दो दिनों में इसे कागजी रूप दे दिया जाएगा.

Advertisement. Scroll to continue reading.

PM करेंगे बाजवा के उत्तराधिकारी की घोषणा

जियो न्यूज से बात करते हुए पाक गृहमंत्री ने कहा कि नए आर्मी चीफ की नियुक्ति में कोई देरी नहीं की जाएगी. सारी प्रक्रियाएं पूरी हो चुकी हैं. अगले एक या दो दिन में प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ की ओर से बाजवा के उत्तराधिकारी की घोषणा कर दी जाएगी. सनाउल्लाह ने कहा कि सरकार ने इस मामले में सत्तापक्ष के अलावा विपक्ष के लोगों से भी चर्चा की है.

आर्मी चीफ की शक्तियां नहीं होंगी कम

पाक गृहमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री के पास सेना प्रमुख को नियुक्त करने का विशेषाधिकार होता है, उसके बाद भी सभी लोगों सो चर्चा की गई. उन्होंने कहा कि इस परामर्श का ये मतलब भी नहीं है कि नए आर्मी चीफ के लिए कुछ शर्तों को निर्धारित करना हो. उन्होंने कहा कि आर्मी चीफ की शक्तियों को कतई कम नहीं किया जाएगा. बता दें कि कानून के अनुसार पाक प्रधानमंत्री को शीर्ष तीन सितारा जनरलों में से ही आर्मी चीफ नियुक्त करने का अधिकार है.

2016 में आर्मी चीफ बने थे बाजवा

Advertisement. Scroll to continue reading.

जनरल बाजवा को 2016 में सेना प्रमुख नियुक्त किया गया था. 2019 में तत्कालीन इमरान सरकार ने उनके कार्यकाल को तीन साल के लिए और बढ़ा दिया था. एक विस्तार मिलने के बाद वे 6 साल से आर्मी चीफ पद पर अपनी सेवा दे रहे हैं. बता दें कि पाकिस्तान में आर्मी चीफ का बड़ा रुतबा होता है. सरकार में भी उसका दखल रहता है. यही कारण है कि पाकिस्तान के 76 साल के इतिहास में 36 साल सैन्य शासन रहा.

कई महीनों से सुर्खियों में थे आर्मी चीफ

पाकिस्तान का आर्मी चीफ हमेशा ही सुर्खियों में रहता है, लेकिन पिछले कुछ महीनों से जनरल बाजवा भी काफी चर्चा में रहे. इमरान खान ने प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देने से पहले आर्मी चीफ जनरल बाजवा पर सरकार गिराने के लिए साजिश रचने का आरोप लगाया था. वहीं इमरान खान के मार्च को लेकर जनरल बाजवा ने भी उनको धमकी दी थी. बाजवा ने इमरान से कहा था कि यदि उन्होंने सत्ता परिवर्तन की कोशिश की, तो पाक आर्मी उनको कुचलकर रख देगी.

You May Also Like

राज्य

MCD Results Gautam Gambhir: दिल्ली नगर निगम चुनावों (MCD Elections) में भारतीय जनता पार्टी (BJP) को करारी हार का सामना करना पड़ा है. 15...

राज्य

नई दिल्ली. गुजरात और हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के बाद आज यानी 8 दिसंबर को सुबह 8 बजे से वोटों की गिनती शुरू...

राज्य

अरविंद केजरीवाल का झाड़ू दिल्ली नगर निगम के चुनाव में भी चल गया. इसी साल पंजाब में विधानसभा चुनाव जीतने वाली आम आदमी पार्टी...

बॉलीवुड

अपनी अनोखी कहानी और दमदार एक्टिंग से डिजिटल प्लेटफार्म पर मशहूर आर्या सीरीज तो आप सबको याद होगी. लोगों ने इस वेब सीरीज और...

Advertisement