Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

विदेश

रूस के सहयोगी बेलारूस ने अब पोलैंड को दी चेतावनी, कहा- तीसरा विश्वयुद्ध ना भड़काओ

यूक्रेन के पड़ोसी देश पोलैंड (Poland) ने NATO सेना की तैनाती का प्रस्ताव दिया था. जिसके बाद रूस के सहयोगी बेलारूस (Belarus) ने पोलैंड को चेतावनी दी है कि वो पश्चिमी देशों से दूर रहे.

Vladimir Putin and Alexander Lukashenko
व्लादिमीर पुतिन (R) ने यूक्रेन मुद्दे पर बेलारूसी राष्ट्रपति अलेक्सांद्र लुकाशेंको (L) के साथ बातचीत की (Photo: ANI)

नई दिल्लीः रूस और यूक्रेन के बीच एक महीने से युद्ध (Russia-Ukraine War) जारी है. रूसी सेना ने 24 फरवरी को यूक्रेन पर हमला किया था. तब से रूसी सेना लगातार यूक्रेन (Ukraine) के सभी बड़े शहरों को निशाना बनाकर मिसाइलें दाग रही है. रूसी हमलों से यूक्रेन के शहर तबाह हो चुके हैं. अमेरिका सहित तमाम पश्चिमी देशों द्वारा रूस पर लगाए गए आर्थिक प्रतिबंधों के बाद भी जंग जारी है. वहीं यूक्रेन के पड़ोसी देश पोलैंड (Poland) ने NATO सेना की तैनाती का प्रस्ताव दिया था. जिसके बाद रूस के सहयोगी बेलारूस (Belarus) ने पोलैंड को चेतावनी दी है कि वो पश्चिमी देशों से दूर रहे.

इस खबर में ये है खास

  • पोलैंड को बेलारूस की चेतावनी
  • EU से जेलेंस्की की भावुक अपील
  • रूस को G-20 से बाहर करना चाहता हूं- बाइडन
  • रूसी बॉर्डर पर NATO का युद्धाभ्यास

पोलैंड को बेलारूस की चेतावनी

बेलारूस के राष्ट्रपति अलेक्जेंडर लुकाशेंको ने आगाह किया है कि यूक्रेन में पश्चिमी शांतिरक्षक बलों को तैनात करने संबंधी पोलैंड का प्रस्ताव तीसरा विश्व युद्ध भड़का सकता है. बेलारूस के राष्ट्रपति ने पोलैंड के पिछले सप्ताह किए गए शांति मिशन की पेशकश की ओर इशारा करते हुए गुरुवार को कहा कि इसका मतलब तीसरा विश्व युद्ध होगा. उन्होंने कहा कि हालात बेहद गंभीर और तनावपूर्ण हैं. बता दें कि बेलारूस रूस का सहयोगी है और उसने रूस को यूक्रेन पर आक्रमण करने के लिए अपने क्षेत्र का इस्तेमाल करने की अनुमति दी है.

EU से जेलेंस्की की भावुक अपील

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने यूक्रेन का साथ देने और रूस पर प्रतिबंध लगाने के लिए यूरोपीय संघ के नेताओं का शुक्रिया अदा किया है. जेलेंस्की ने इन कदमों के पहले न उठाए जाने पर अफसोस जताया. उन्होंने कहा कि यदि पहले ऐसा कर दिया जाता तो रूस आक्रमण करने से पहले 2 बार सोचता. इसके अलावा जेलेंस्की ने यूरोपीय संघ से अपील की कि वे जल्द से जल्द यूक्रेन को इस समूह में शामिल कर लें. बता दें कि यूक्रेन यदि EU समूह में शामिल हो जाता है तो रूस पर युद्ध खत्म करने का दबाव काफी बढ़ जाएगा.

Advertisement. Scroll to continue reading.

रूस को G-20 से बाहर करना चाहता हूं- बाइडन

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि वे चाहते हैं कि रूस को G-20 से बाहर कर दिया जाए. उन्होंने कहा कि वह चाहेंगे कि समूह से रूस को बाहर किया जाए अगर इससे इंडोनेशिया और अन्य असहमत होंगे तो वह कहेंगे कि यूक्रेन के नेताओं को बातचीत में शामिल होने की अनुमति दी जाए. बता दें कि G-20 समूह, 19 देशों और यूरोपीय संघ का अंतर सरकारी मंच है जो प्रमुख वैश्विक मुद्दों पर काम करता है.

रूसी बॉर्डर पर NATO का युद्धाभ्यास

जेलेंस्की ने पूरी दुनिया से रूस का विरोध करने की अपील की. इस बीच NATO की सेना ने रूसी बॉर्डर पर युद्धाभ्यास शुरू कर दिया है. नाटो देशों के 30 हजार सैनिक युद्धाभ्यास कर रहे हैं. इस युद्धाभ्यास में परमाणु पनडुब्बी तक शामिल हैं.

Advertisement. Scroll to continue reading.

You May Also Like

राज्य

नई दिल्ली. गुजरात और हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के बाद आज यानी 8 दिसंबर को सुबह 8 बजे से वोटों की गिनती शुरू...

देश

नई दिल्ली. देश के 2 राज्यों में विधानसभा चुनाव के बाद गुरुवार को सुबह 8 बजे से मतगणना हो रही है. गुजरात में एक...

देश

गुजरात में एक और 5 दिसंबर को विधानसभा चुनाव के लिए 63.14 फीसदी वोट डाले गए थे. वहीं हिमाचल में 12 नवंबर को 75.6...

राज्य

अब तक रुझानों के अनुसार एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी राज्य में प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाने जा रही है. कांग्रेस और...

Advertisement