Connect with us

Hi, what are you looking for?

[t4b-ticker]

विदेश

आखिर Elon Musk अब Twitter खरीदने से क्यों हट रहे पीछे?

Elon Musk
Elon Musk

टोरंटो: क्या एलोन मस्क अब ट्विटर खरीदने से झिझक रहे हैं? क्या वह इस सौदे को लेकर पछतावे का अनुभव कर रहे हैं? या वह बाजारों के लिए नाटक रचने की कोशिश कर रहे हैं, जो उनके सार्वजनिक व्यक्तित्व के अनुरूप है? या मस्क बेहतर कीमत के लिए बातचीत कर सकते हैं? चलिए समझते हैं बिजनेस, यूनिवर्सिटी ऑफ कैलगरी और कनाडा रिसर्च चेयर और एसोसिएट प्रोफेसर अनूप श्रीवास्तव की रिपोर्ट को.

खबर में खास

  • जनवरी में ट्विटर स्टॉक खरीदना शुरू किया
  • 14 अप्रैल को मस्क ने कंपनी खरीदने की बात कही
  • उसके बाद क्या सब खुश रहे?
  • महत्वपूर्ण कारक

जनवरी में ट्विटर स्टॉक खरीदना शुरू किया

दरअसल, मस्क ने जनवरी में ट्विटर स्टॉक खरीदना शुरू किया था. 14 मार्च को उन्होंने कंपनी में 9.2 फीसदी हिस्सेदारी की घोषणा की. 5 अप्रैल को, ट्विटर के सीईओ पराग अग्रवाल ने घोषणा की कि मस्क ट्विटर के निदेशक मंडल में शामिल होंगे, और इसे स्वागत योग्य कदम कहा जो ट्विटर को दीर्घकालिक रूप से मजबूत बना देगा. 10 अप्रैल को, अग्रवाल ने घोषणा की कि मस्क ने बोर्ड में शामिल नहीं होने का फैसला किया है.

14 अप्रैल को मस्क ने कंपनी खरीदने की बात कही

14 अप्रैल को मस्क ने कंपनी के पूरे स्टॉक को खरीदने के लिए प्रति शेयर 54.20 डॉलर का भुगतान करने की पेशकश की. जवाब में, 15 अप्रैल को, ट्विटर ने मस्क को कंपनी का अधिग्रहण करने से रोकने के लिए एक शेयरधारक अधिकार योजना की घोषणा की. 21 अप्रैल को, मस्क ने 44 अरब अमरीकी डालर के सौदे के वित्तपोषण के लिए एक विस्तृत योजना प्रस्तुत की. महत्वपूर्ण रूप से, मस्क ने कहा कि वह अपने स्वयं के फंड से 21 अरब अमरीकी डालर का भुगतान करेंगे जो कि मुख्य रूप से उनके टेस्ला स्टॉक होल्डिंग्स की बिक्री से आएगा, और वह अपनी टेस्ला होल्डिंग्स के बदले 13 अरब अमरीकी डालर का उधार लेंगे. एक ठोस वित्तपोषण योजना को देखते हुए, ट्विटर के बोर्ड ने 25 अप्रैल को मस्क के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया.

Advertisement. Scroll to continue reading.

उसके बाद क्या सब खुश रहे?

यह समय ट्विटर और मस्क के लिए खुशी से भरा होना चाहिए था, लेकिन 17 मई को मस्क ने चिंता व्यक्त की कि 20 प्रतिशत ट्विटर खाते फर्जी हैं, कि उन्होंने जो पेशकश की थी वह ट्विटर के ग्राहकों की असली संख्या के आधार पर थी, और वह सौदे को लेकर तब तक आगे नहीं बढ़ेंगे, जब तक इस बात का सबूत न हो कि पांच फीसदी से कम खाते फर्जी हैं.

मस्क की धमकी का कोई मतलब नहीं था, क्योंकि उनका प्रस्ताव कभी भी ग्राहकों की संख्या या सौदे के अर्थशास्त्र के बारे में नहीं था. आखिरकार, ट्विटर का राजस्व, नकदी प्रवाह, लाभांश या मुनाफा 44 अरब अमेरिकी डॉलर के मूल्यांकन को सही नहीं ठहरा सकता.

इसके अलावा, मस्क ने कभी भी ट्विटर की ग्राहक संख्या से प्रति ग्राहक मूल्य गुणा करके अपनी गणना नहीं की. उनका कदम मुख्य रूप से इस बारे में था कि वह ट्विटर को क्या बनाना चाहते हैं. या यह एक दिखावे की खरीद थी, जैसे कोई आधुनिक अखबार खरीद लेना, जैसे कि कई अमीर लोग करते हैं (जेफ बेजोस वाशिंगटन पोस्ट के मालिक हैं और रूपर्ट मर्डोक वॉल स्ट्रीट जर्नल के मालिक हैं). अगर मस्क को सच में लगता था कि कई ट्विटर अकाउंट फर्जी हैं तो उन्होंने इतनी बार ट्वीट क्यों किया? मस्क ने ट्विटर पर कई महत्वपूर्ण घोषणाएं की, जिसमें टेस्ला को निजी करने के बारे में उनका कुख्यात ट्वीट भी शामिल है.

महत्वपूर्ण कारक

Advertisement. Scroll to continue reading.

तो, उनकी पिछली घोषणाओं के बाद से क्या हुआ? मेरी राय में, दो कारकों ने मस्क के मन को बदल दिया. सबसे पहले, प्रौद्योगिकी शेयरों, विशेष रूप से मीडिया शेयरों में मंदी का मतलब था कि ट्विटर एक स्टैंडअलोन कंपनी के रूप में अब उतना मूल्यवान नहीं था जितना कि जनवरी की शुरुआत में था. दूसरा, मस्क की चाल से टेस्ला के शेयरधारक हिल गए. वे चिंतित हो गए कि मस्क इलेक्ट्रिक वाहनों को आगे बढ़ाने के काम पर ध्यान देने के बजाय अपना समय ट्विटर को बदलने में व्यतीत करेंगे.

वह अपने कर्ज के बोझ से दबे सीईओ के बारे में भी चिंतित होंगे, जो अब अपनी व्यक्तिगत इच्छाओं को पूरा करने के लिए टेस्ला के शेयरों को बेचने या गिरवी रखने की योजना बना रहा है. टेस्ला के शेयर 5 अप्रैल को 1,091 अमेरिकी डॉलर से गिर गए, जब ट्विटर ने मस्क के निदेशक मंडल में शामिल होने की घोषणा की, और 17 मई को मस्क के ट्विटर की ग्राहक संख्या पर सवाल उठाने से ठीक पहले इनका मूल्य 728 अमेरिकी डॉलर पर आ गया.

कीमतों में यह गिरावट 380 अरब डॉलर के नुकसान के बराबर है. मस्क के पास टेस्ला में लगभग 17 करोड़ 50 लाख शेयर हैं, जिसका अर्थ है कि उन्हें व्यक्तिगत रूप से 64 अरब अमरीकी डालर का नुकसान हुआ, जो 44 अरब अमरीकी डालर से अधिक था जिसे उन्होंने ट्विटर के लिए भुगतान करने की योजना बनाई थी. मस्क एक चालाक व्यवसायी और एक चतुर वार्ताकार है – कोई केवल सिगार पीकर तो दुनिया का सबसे अमीर व्यक्ति नहीं बन जाता है. उन्हें अब शायद यह एहसास हो गया है कि ट्विटर इस लायक नहीं कि उसका पीछा किया जाए और इस सौदे से लाभ के नुकसान होने के आसार अधिक हैं.

You May Also Like

देश

नई दिल्ली. अभी तक सीबीएसई (CBSE Result) बोर्ड परीक्षा का परिणाम नहीं हो सका है. लंबे समय से विद्यार्थी रिजल्ट का इंतजार कर रहे...

विदेश

नई दिल्लीः संयुक्त राज्य अमेरिका (America) के शिकागो में इलिनोइस के हाईलैंड पार्क में 4 जुलाई की परेड के दौरान फायरिंग(Firing) की घटना में मौतों का...

क्रिकेट

IND vs ENG Edgbaston 5th Test Day 4 Highlights: जो रूट (नाबाद 76) और जॉनी बेयरस्टो (नाबाद 72) के बीच 150 रन की साझेदारी...

कोरोनावायरस

नई दिल्ली: देश में Corona के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं, नए मामलों का ग्राफ उठता जा रहा है ऐसे में देश के...

Advertisement